भूतही बलान क्षेत्र की कुछ मांगों पर पहल शुरू

फुलपरास-

भूतही बलान पीड़ित  क्षेत्र की “मत बहिष्कार आंदोलन” के मद्देनजर प्रसिद्ध रणनीतिकार और जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर द्वारा आंदोलनकारियों को मुख्यमंत्री आवास पर बुलाने के बाद क्षेत्रीय समस्याओं का संबंधित मंत्री के साथ बैठक की प्रस्ताव रखा गया था। जिसमें ग्रामीण कार्य विभाग मंत्री शैलेश कुमार के साथ 8 सदस्य टीम की बैठक 5 दिसम्बर को  विभागीय मंत्रालय विश्वेश्वरैया भवन पटना में हुई और 7 दिसम्बर को जल संसाधन मंत्री ललन सिंह के साथ 7 सर्कूलर रोड मुख्यमंत्री आवास पर  प्रशांत किशोर के उपस्थिति में हुई। जिसमें मुख्य रूप से संतोष कुमार, संतोष राज, कन्हैया झा, देवनारायण वर्मा, शंभू नाथ झा, जय प्रकाश कामत, हीरालाल कामत,अनिल यादव और  पप्पू सिंह उपस्थित थे।

मंत्री के साथ हुई बैठक के बाद भूतही बलान क्षेत्र की कुछ मांग पर पहल शुरू

56 गांव की समस्याओं को लेकर आगे आए प्रशांत किशोर

बैठक के बाद ग्रामीण कार्य विभाग मंत्री शैलेश कुमार ने सड़क से संबंधित कुछ मांगें को विभाग द्वारा पहल की शुरुआत कर दिया और कुछ मांगें पर सरकारात्मक रुख का अख्तियार किया है। जिसे कुछ समय बाद कार्य की शुरुआत की जाएगी।

ऐसी मांगें जिस पर कार्य की शुरुआत की गई है-

  • परसा से गोरगामा  तक 2008 से अधूरे पुल व सड़क निर्माण कार्य हेतु विभागीय मंत्रालय बुलाकर अधिकारी के साथ समीक्षात्मक बैठक 7 दिसंबर को तय किया गया।
  • फुलपरास पीडब्ल्यूडी सड़क से रामनगर तक 3 बड़े पुल के साथ सड़क निर्माण हेतु विचारधीन में रखा गया है। क्योंकि रामनगर गाँव ननपट्टी, चतरापट्टी होते हुए नरहिया एनएच 57 के साथ लिंग हो जाने के कारण बंद कर दिया गया है।  इसे मंत्री महोदय ने आश्वासन दिया कि फिर से इस सड़क  को ओपन करके बनाया जाएगा इसके लिए थोड़ा समय चाहिए।
  • धनखोड़  गांव से परसा गोरगामा मुख्य सड़क के साथ  संपर्क हेतु  विभाग को डीपीआर बनाने का आदेश दिया गया है।
  • सुड़ियाही मध्य विद्यालय से सुड़ियाही दुर्गा स्थान तक सड़क निर्माण हेतु डीपीआर बनाने का आदेश विभाग को दिया गया।
  • भूतही बलान के पूर्वी तटबंध को रामनगर से परसा रेलवे लाइन तक जाँच के उपरांत रिपोर्ट एक सप्ताह के अंदर जल संसाधन विभाग से मांगे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *