मंदिर निर्माण से ही समाज का होगा कल्याण : आनंद

अयोध्या-
श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण सेना की बैठक शुक्रवार को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प. आनंद मिश्रा के अगुआई में सम्पन्न हुई। बैठक के बाद राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प. आनंद मिश्रा ने पत्रकारों को बताया कि श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण सेना का गठन मर्यादा पुरुषोतम भगवान श्रीराम के आदर्शों को वर्तमान समाज में मूर्त रूप देने के लिए किया गया है।
पूरे देश में श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण सेना के 68 हजार कार्यकर्त्ता श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए उचित समय की प्रतीक्षा में हैं। वर्तमान में श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण सेना के सैकड़ों साथियों के रहने और खाने की समुचित व्यवस्था की गयी है। जो मंदिर निर्माण का आदेश मिलते ही सक्रीय भूमिका आ जायेंगे।
आनंद मिश्रा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से यह मांग की है कि श्रीरामलला के मंदिर निर्माण में अब विलम्ब नहीं किया जाय क्योंकि विलम्ब से व्यग्रता बढ़ेगी जिसका नुकसान सिर्फ और सिर्फ मंदिर निर्माण का भरोसा देने वालों को होगा। यदि मंदिर का निर्माण जनता खुद करेगी तो यह आरोप लगेगा कि कानून को अपने हाथ में लिया जा रहा है। इससे सामाजिक समरसता बिगड़ने का भी खतरा बना रहेगा। लिहाजा जनमानस की भावना का सम्मान करते हुए केंद्र सरकार को मंदिर निर्माण में देरी नहीं करनी चाहिए।
श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण सेना के सामाजिक कार्यों की राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत जी,  भाजपा अध्यक्ष अमित शाह जी, मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी के द्वारा प्रशंसा भी की गयी है और मदद देने का भी भरोसा दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *