Top
Home > राज्यवार > दिल्ली > एक मासूम बच्ची की मौत का कारण बने मुट्ठीभर अनार के दाने

एक मासूम बच्ची की मौत का कारण बने मुट्ठीभर अनार के दाने

एक मासूम बच्ची की मौत का कारण बने मुट्ठीभर अनार के दाने
X

दिल्ली, ब्यूरो | दिल्ली फरीदाबाद के सेक्टर-30 से एक खबर सामने आई है । अनार दाने की वजह से एक खिलखिलाता परिवार बिखर गया. 3 साल की एक बच्ची की मौत हो गई, क्योंकि अनार के दाने उसकी सांस की नली में अटक गए थे । डेविड बैसला फरीदाबाद के सेक्टर-30 में रहते हैं । सांस की नली में अनार दाने फंसने से उनकी सबसे छोटी बच्ची यशिका की मौत हो गई है ।

डेविड की बहन मीनाक्षी घर आई हुई थीं उनके बच्चे साथ में खेल रहे थे । उस वक्त डेविड की पत्नी पूनम ने अनार के दाने छीलकर बच्चों के सामने रखे । यशिका ने खेल-खेल में एक मुट्ठी दाने उठा लिए और मुंह में भर लिए और फिर वो खेलते हुए एक बार हंसी । उसके बाद उसे सांस लेने में दिक्कत होने लगी । पूनम बच्ची की हालत देखकर घबरा गई और उसने तुरंत डेविड को कॉल किया । पड़ोस में रहने वाले लोगों को बताया । सब लोग आए, फिर यशिका को पास के एक क्लीनिक लेकर गए । वहां डॉक्टर ने अस्पताल ले जाने को कह दिया । फिर यशिका को सेक्टर-28 के शंकर अस्पताल ले जाया गया । वहां से उसे सर्वोदय अस्पताल रिफर कर दिया गया. लेकिन रास्ते में ही यशिका की मौत हो गई ।

Updated : 20 Sep 2019 3:59 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top