Top
Home > नजरिया > आखिर कौन से भारतीय शहरों में घूमने के लिए देना पड़ता है वीजा ?

आखिर कौन से भारतीय शहरों में घूमने के लिए देना पड़ता है वीजा ?

आखिर कौन से भारतीय शहरों में घूमने के लिए देना पड़ता है वीजा ?
X

न्यूज़ डेस्क | अक्सर लोग छुट्टियां मनाने अपने शहर से बाहर जाते है। वहीं वीजा और टिकेट आदि पहले से बुक करवाते है।लेकिन क्या आप ये जानते हैं की आपके शहर में ही आप अच्छे से घूम सकते है, और अपनी छुट्टियां मना सकते हैं। जी हैं अब आपको कही बहार जाने की जरूरत नहीं हैं। वहीं बहुत से देश ऐसे भी हैं जो भारत के लोगों को वीजा के बिना एंट्री दे रहें हैं। लेकिन भारत ही में ही कुछ ऐसे शहर है जहां पर जाने के लिए वीजा की जरूरत पड़ती है। तो चलिए जानें वो कौन सी जगह हैं।दूसरे देश से लगी सीमाओं के चलते लेह लद्दाख जाने के लिए तो परमिट की जरूरत पड़ती है। लेकिन इस शहर के अलावा मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश और नागालैंड के अंदर जाने के लिए भी वीजा, जिसे परमिट कहते हैं, उसकी जरूरत पड़ती है। लद्दाख, अरूणाचल प्रदेश, नागालैंड, मेघालय, लक्ष्यद्वीप जैसी जगहों पर जाने के लिए इनर लाइन परमिट की जरूरत पड़ती है। ये परमिट एक आधिकारिक दस्तावेज है जो किसी भी भारतीय नागरिक को एक निश्चित अवधि के लिए इन खास जगहों पर घूमने की अनुमति देता है। इस नियम की शुरूआत अंग्रेजों के समय में की गई थी। लेकिन स्वतंत्रता के बाद भी आज भी ये नियम इन राज्यों में लागू है। तो अगर आप मणिपुर, नागालैंड या अरूणाचल प्रदेश की सैर के बारे में सोच रहें है तो इस परमिट को लेना न भूलें। दरअसल इस परमिट को लेना बहुत कठिन नहीं है। बस पहचान पत्र के साथ हर राज्य का अपना शुल्क है जिसे देना पड़ता है। वैसे लक्ष्यद्वीप में जाने के लिए परमिट तो लेना पड़ता है लेकिन इसके लिए किसी तरह का शुल्क नहीं देना पड़ता।

Updated : 9 Nov 2019 9:28 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top