Home > राष्ट्रीय > चंद्रयान के आंशिक रूप से असफल होने के बाद इसरो ने शुरू किया अपना अगला मिशन

चंद्रयान के आंशिक रूप से असफल होने के बाद इसरो ने शुरू किया अपना अगला मिशन

चंद्रयान के आंशिक रूप से असफल होने के बाद इसरो ने शुरू किया अपना अगला मिशन
X

दिल्ली, ब्यूरो | इसरो का चंद्रयान मिशन आंशिक रूप से असफल हो चुका है । विक्रम लैंडर से कोई संपर्क नहीं हो पाया है। आज संपर्क करने का आखिरी दिन था। इसके बाद चांद पर 14 दिनों की रात होगी और ऑर्बिटर से विक्रम लैंडर का संपर्क नहीं साधा जा सकेगा। इसरो ने ट्वीट करके जानकारी दी है कि विक्रम लैंडर से संपर्क नहीं हो पा रहा है। इसके लिए आंकड़ों का विश्लेषण अब तक चल रहा है। इसके साथ ही इसरो ने ये भी जानकारी दी है कि ऑर्बिटर अपने मिशन में जारी रहेगा। 6 सितम्बर की रात चंद्रयान का विक्रम लैंडर चांद की स्टाफ पर सॉफ्ट लैंडिंग की कोशिश कर रहा था, तभी उसका इसरो से संपर्क टूट गया। इसके बाद से लेकर अब तक चंद्रयान से संपर्क करने की कोशिशें जारी रही हैं। नासा ने भी हाथ बंटाया लेकिन कोई लाभ नहीं हो पाया।अब हम आपको इसरो के अगले मिशन की जानकारी देते हैं। इसरो के चेयरमैन के सिवन ने बताया है कि इसरो का अगला मिशन गगनयान है। मिशन गगनयान के तहत भारत पहली बार मनुष्य को अंतरिक्ष में भेजेगा। भारतीय मूल के आस्ट्रोनॉट तो अंतरिक्ष में गए ही हैं, लेकिन भारत के बने स्पेसक्राफ्ट से नहीं। बताया जा रहा है कि इस मिशन की लॉन्चिंग 2022 में की जाएगी। इसी साल 8 जून को इसरो के गगनयान की राष्ट्रीय सलाहकार समिति की पहली बैठक हुई थी। के सिवन ने बताया है कि गगनयान पर काम करना और उसे सफल बनाना उनकी पहली प्राथमिकता होगी।

Updated : 21 Sep 2019 1:39 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top