Home > राज्यवार > झारखण्ड > यूपी के बाद झारखंड सरकार ने कोरोना जांच शुल्क 2400 रुपए से घटाकर 1500 किया

यूपी के बाद झारखंड सरकार ने कोरोना जांच शुल्क 2400 रुपए से घटाकर 1500 किया

यूपी के बाद झारखंड सरकार ने कोरोना जांच शुल्क 2400 रुपए से घटाकर 1500 किया
X

उदय सर्वोदय

रांची: उत्तर प्रदेशके बाद झारखंड सरकार ने भी Covid-19 जांच किट और इससे जुड़ी दूसरी चीजों के दाम मेंआई कमी को ध्यान में रखते हुए प्राइवेट लैब में कोरोनावायरस संक्रमण की RT-PCRतरीके से जांच की कीमत घटा दी है। पहले यह 2400 रुपए थी, लेकिन अब इसकी कीमत घटकर 1500 रुपए हो गई है।

झारखंड सरकार कीतरफ से जारी आदेश के अनुसार अब निजी प्रयोगशालाएं कोरोना वायरस से संक्रमण की इसजांच के लिए अधिकतम 1500 रुपये ही शुल्कले सकेंगी। इससे अधिक शुल्क लेने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की भी बात कही गयी है।

इससे पूर्व 29 जून को जारी आदेश में राज्य सरकार ने इस RT-PCRकिट से Covid-19 टेस्ट के लिए राज्य में अधिकतम 2400 रुपये का शुल्क निर्धारित किया था। आदेश में बताया गया हैकि RT-PCR जांच किट और VTM किट की कीमत में हाल के दिनों में आयी गिरावटको देखते हुए राज्य सरकार ने यह निर्णय लिया है।

हाल ही में उत्तर प्रदेश मेंकोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए योगी आदित्यनाथ की सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए प्राइवेट लैब में कोरोना टेस्ट के लिएनिर्धारित शुल्क की राशि लगभग 1000 रुपए घटा दी। सरकारके नए आदेश के मुताबिक अब प्रदेश में स्थित प्राइवेट लैब में सिर्फ 1600 रुपए में कोरोना वायरस संक्रमण की जांच कराई जासकेगी। इससे पहले प्राइवेट लैब मेंआरटीपीसीआर टेस्ट 2500 रुपए में की जातीथी, लेकिन अब इसके लिए सिर्फ 1600रुपए ही लिए जाएंगे।

बहरहाल, झारखंड में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 1702 नए मामले दर्ज किए गए। इन्हें मिलाकर अब तकझारखंड में 64,439 लोग इस वायरस कीचपेट आ चुके हैं। इस दौरान 10 लोगों की मौत होगई। राज्य में संक्रमण की वजह से अब तक 571 लोगों की मौत हो चुकी है।

Updated : 16 Sep 2020 10:18 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top