चीन तथा पाकिस्तान से लगी सीमाओं पर तैनात होंगी आकाश मिसाइल

चीन तथा पाकिस्तान से लगी सीमाओं पर तैनात होंगी आकाश मिसाइल

नई दिल्ली, एजेंसी | कश्मीर के हालात बदलने के बाद से देश में आतंकवाद का ख़तरा बढ़ गया है। किसी भी तरफ से देश में घुसपैठ हो सकती है। इसके लिए सभी सुरक्षाकर्मियों तथा सेना बल को लम्बे समय के लिए अलर्ट पर रखा गया है। इसके अलावा सावधाणी बरतने के लिए रक्षा मंत्रालय भी नई नई योजनाएं बनाने में जुटा हुआ है। इसी क्रम में रक्षा मंत्रालय ने हाल ही में घुसपैठ को रोकने के लिए पाकिस्तान तथा चीन से सटी सारी सीमाओं पर आकाश मिसाइल तैनात करने का फैसला लिया है। सूत्रों के अनुसार पता चला है कि मिसाइलों को 15 हजार फुट की ऊंचाई वाले इलाकों में तैनात किया जाएगा। रक्षा मंत्रालय ने एयर डिफेन्स तथा मिसाइल की रेजीमेंटों में इजाफा लाने के लिए 10,000 करोड़ की योजना की शुरुआत करने के बारे में चर्चा करने का फैसला किया है।

आपको बता दें आकाश मिसाइल देश के अत्याधुनिक संस्करणों में से एक है। रक्षा मंत्री तथा आर्मी चीफ की लद्दाख से वापसी के बाद इस विषय पर चर्चा होनी है। विपिन रावत का कहना है कि यदि इस प्रस्ताव को मंजूरी मिल जाती है तो जल्द ही सेना आकाश मिसाइल का अधिग्रहण कर लेगी। आपको बता दें कि आकाश मिसाइल को DRDO द्वारा विकसित किया गया है। सेना के पास वर्तमान में आकाश मिसाइल की दो रेजिमेंट पहले से मौजूद हैं। लेकिन दुश्मन पक्ष की तरफ से बिगड़ते हालातों के चलते सेना ने दो और रेजिमेंट के अधिग्रहण का प्रस्ताव रखा है। कहा जा रहा है कि इस प्रस्ताव की मंजूरी से ‘मेक इन इंडिया’ को भी मजबूती मिलेगी।

Uday Sarvodaya Team

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *