Home > राज्यवार > दिल्ली > भारती कॉलेज द्वारा DU के गैर शिक्षक कर्मचारियों के लिए दो दिवसीय कार्यक्रम आयोजित

भारती कॉलेज द्वारा DU के गैर शिक्षक कर्मचारियों के लिए दो दिवसीय कार्यक्रम आयोजित

भारती कॉलेज द्वारा DU के गैर शिक्षक कर्मचारियों के लिए दो दिवसीय कार्यक्रम आयोजित
X

दिल्ली, ब्यूरो | भारती कॉलेज के IQAC द्वारा दिल्ली विश्वविद्यालय के गैर-शिक्षक कर्मचारियों के लिए “कार्मिक प्रशासन में कौशल वृद्धि” पर 26-27 सितंबर को, दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस आयोजन में भारती कॉलेज के साथ 'जीसस एंड मैरी', ओरबिंदो कॉलेज, दिल्ली कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड कॉमर्स आदि के प्रतिभागियों ने सक्रिय रूप से भाग लिया। पहले दिन, सुबह के सत्र का नेतृत्व प्रख्यात पदाधिकारी 'डॉ विकास गुप्ता, वरिष्ठ निदेशक, राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी, उच्च शिक्षा विभाग, एमएचआरडी' ने किया। सायंकालीन सत्र की अध्यक्षता दिल्ली विश्वविद्यालय के 'सहायक कुलसचिव डॉ प्रदीप कुमार' और 'भारती कॉलेज IQAC संयोजक डॉ अनुपमा महाजन' द्वारा की गयी।

7 घंटे के लंबे सत्र में, प्रोक्योरमेंट, स्टोर, कॉलेजों के प्रशासन और प्रशासन में नैतिकता जैसे विषयों पर गहराई से चर्चा की गई। दूसरे दिन की शुरुआत प्रतिभागियों द्वारा एक संक्षिप्त परिचय के साथ हुई, जिसके बाद 'दिल्ली विश्वविद्यालय के संयुक्त रजिस्ट्रार सुधीर शर्मा' द्वारा "यौन उत्पीड़न" पर व्याख्यान दिया गया। रोस्टर, ईडब्ल्यूएस और आरटीआई के मुद्दे पर 'डिप्टी रजिस्ट्रार डॉ रोहन राय' द्वारा विचार-विमर्श किया गया। गौरव आनंद और राजा रमन व अन्य महत्वपूर्ण वक्ता भी वहां उपस्थित रहे। ' गौरव आनंद, सहायक रजिस्ट्रार,दिल्ली विश्वविद्यालय' द्वारा '7th CPC' व बजट के विषय पर विचार साझा किया गया। अंत में कार्यशाला का समापन 'CPDHE की निर्देशक गीता सिंह' के भाषण से हुआ। यह दो दिवसीय कार्यशाला गैर-शिक्षक कर्मचारियों के लिए बेहद महत्वपूर्ण व सूचनात्मक रही, जिसमें वह काफी नयी जानकारियों से अवगत हुए।

Updated : 28 Sep 2019 7:40 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top