Home > राज्यवार > बिहार > बिहार चुनाव: तीसरे और आखिरी चरण में शाम 5 बजे तक 55.22% मतदान

बिहार चुनाव: तीसरे और आखिरी चरण में शाम 5 बजे तक 55.22% मतदान

अंतिम चरण में 15 जिलों की 78 विधानसभा सीटों के लिए मतदाताओं ने वोट किया। राज्य में विभिन्न जगहों पर मतदान का बहिष्कार भी किया गया।

बिहार चुनाव: तीसरे और आखिरी चरण में शाम 5 बजे तक 55.22% मतदान
X

उदय सर्वोदय

पटना: बिहार में तीसरे और आखिरी चरण के लिए शनिवार को मतदान हुआ। भारत निर्वाचन आयोग के अनुसार, बिहार विधानसभा चुनाव के इस अंतिम चरण में शाम 5 बजे तक 55.22% मतदान हुआ। अंतिम चरण में 15 जिलों की 78 विधानसभा सीटों के लिए मतदाताओं ने वोट किया। राज्य में विभिन्न जगहों पर मतदान का बहिष्कार भी किया गया। सुबह मतदान शुरू होने से पहले ही कई बूथों पर कतारें लगनी शुरू हो गईं।

मतदान के पूर्ण रूप से समाप्त होने के बाद एक्ज़िट पोल का सिलसिला शुरू होगा। इस एक्ज़िट पोल में पता चलेगा बिहार में किसकी बन सकती है सरकार। ये एग्जिट पोल अनुमानों पर आधारित होते हैं। वास्तविक नतीजे 10 नवंबर को आएंगे, तभी पता चलेगा कि बिहार में इस बार किसकी सरकार बन रही है। उधर चुनाव पर पप्पू यादव ने दावा किया है कि नीतीश कुमार से जनता नाराज़ है, इस चुनाव में जेडीयू को सबसे ज़्यादा नुक़सान होगा।

चुनाव के दौरान मोतिहारी, दरभंगा और कटिहार में अपनी विभिन्न मांगों को लेकर ग्रामीणों ने वोट का बहिष्कार किया। दरभंगा के बहादुरपुर विधानसभा क्षेत्र की कुशोत्थर पंचायत के लोगों ने गांव में उच्च विद्यालय नहीं बनने के कारण वोट का बहिष्कार किया। डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम ने एडीएम व शिक्षा विभाग के अधिकारियों को उक्त पंचायत में भेजा। पूर्णिया में हंगामे की वजह से चार बूथों पर दो घंटे मतदान रुका रहा। अधिकारियों ने समझा-बुझाकर मतदान शुरू कराया।

चुनाव के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट कर कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में आज 78 सीटों पर मतदान है। इन क्षेत्रों के मतदाताओं से मेरी अपील है कि अपनी ज़िम्मेदारी का निर्वहन करते हुए मताधिकार का अवश्य प्रयोग करें। वोट करें। आपका एक वोट बिहार में विकास की गति को जारी रखते हुए इसे एक विकसित प्रदेश बनाएगा।

मतदान के दौरान लोजपा नेता चिराग पासवान ने ट्वीट करते हुए लोगों से अपील की कि सभी मतदान करें। पासवान ने लिखा- पिछले दो चरण में बिहार ने विकास और बदलाव के लिए अपना आशीर्वाद दिया है। बिहार1st बिहारी1st के दुश्मनो को सबक़ सिखाना है। बिहार को और बर्बाद नहीं होने देना है। बिहार को आगे ले जाने के लिए अपना मतदान करें। लोजपा संग भाजपा प्रत्याशियों की बढ़त है।

चिराग ने आगे लिखा कि अब नहीं तो कभी नहीं की नीति पर चलना होगा। इस बार साहब ने पिछले 5 साल का हिसाब दिया नहीं। अब साहब संन्यास ले रहे हैं। पांच वर्ष के बाद साहब आप का आशीर्वाद माँगने भी नहीं आएँगे। इस बार जब आना था आशीर्वाद लेने तब तो कुछ किया नहीं, अगली बार उनको कुछ करने की ज़रूरत नहीं है।

Updated : 7 Nov 2020 1:29 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top