Home > राज्यवार > बिहार > बिहार: तेजस्वी यादव ने मंत्री रामसूरत राय के इस्तीफे की मांग को लेकर निकाला मार्च

बिहार: तेजस्वी यादव ने मंत्री रामसूरत राय के इस्तीफे की मांग को लेकर निकाला मार्च

तेजस्वी यादव ने कहा, सरकार विधानसभा में हमारी बात नहीं रखने दे रही है और अपराधियों को संरक्षण दे रही है।

बिहार: तेजस्वी यादव ने मंत्री रामसूरत राय के इस्तीफे की मांग को लेकर निकाला मार्च
X

उदय सर्वोदय

पटना: राष्ट्रीय जनता दल (राजद) एवं बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने आज फिर आरोप लगाया कि राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामसूरत राय के मुजफ्फरपुर के बोचहा हाई स्कूल परिसर से शराब बरामदगी मामले में राज्य सरकार उन्हें बचा रही है।

पटना में शनिवार को तेजस्वी यादव ने मंत्री रामसूरत राय के इस्तीफे की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन करते हुए मार्च निकाला। इस दौरान तेजस्वी यादव ने कहा, "सरकार विधानसभा में हमारी बात नहीं रखने दे रही है और अपराधियों को संरक्षण दे रही है। विधानसभा JDU और BJP का दफ्तर हो गया है।

मंत्री रामसूरत राय के खिलाफ सबूत होने के बाद भी उसे रखने नहीं दिया गया। मंत्री ठीक से उत्तर नहीं दे रहे हैं और झूठ बोल रहे हैं। हमने राज्यपाल से मुलाकात की है और इस सरकार को बर्खास्त करने की मांग की है। अभी हम विधानसभा जाएंगे और वहां अपनी बात पूरी करेंगे।''

इससे पहले एक संवाददाता सम्मेलन में स्कूल के बिजली बिल से लेकर अन्य प्रमाण पत्र दिखाते हुए तेजस्वी ने कहा कि मंत्री राय गलत बयानबाजी कर रहे हैं। स्कूल मंत्री के पिता के नाम पर है और उन्हीं के द्वारा चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शराब बरामदगी के मामले में जिस अमरेंद्र प्रताप को स्कूल का संचालक बताकर गिरफ्तार किया गया है दरअसल वह स्कूल के हेड मास्टर थे।

प्रतिपक्ष के नेता ने कहा कि गिरफ्तार हेड मास्टर का मंत्री के परिवार के साथ किसी तरह का कोई एग्रीमेंट नहीं हुआ और न ही वह स्कूल के मालिक ही हैं। राय ने यह बयान दिया है कि स्कूल की जमीन उनके भाई के नाम पर है और स्कूल का संचालक कोई और है। इसे पूरी तरह से गलत करार देते हुए उन्होंने स्कूल का बिजली बिल दिखाया जो उनके पिता अर्जुन राय के अर्जुन मेमोरियल ज्ञान विद्या मंदिर के नाम से है।

Updated : 13 March 2021 9:50 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top