Top
Home > राज्यवार > बिहार > जेडीयू के हारे हुए उम्मीदवारों ने एक स्वर से कहा- बीजेपी की साजिश के कारण मिली पराजय

जेडीयू के हारे हुए उम्मीदवारों ने एक स्वर से कहा- बीजेपी की साजिश के कारण मिली पराजय

JDU के हारे हुए प्रत्याशियों ने एक स्वर से कह दिया कि विधानसभा चुनाव में उनकी हार भाजपा के असहयोग और साज़िश के कारण हुई है।

जेडीयू के हारे हुए उम्मीदवारों ने एक स्वर से कहा- बीजेपी की साजिश के कारण मिली पराजय
X

उदय सर्वोदय

पटना: बिहार में मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर सीएम नीतीश कुमार और बीजेपी के दरम्यान जारी रस्साकशी के बीच जनता दल यूनाइटेड (JDU) के हारे हुए प्रत्याशियों ने आधिकारिक रूप से एक स्वर से कह दिया कि विधानसभा चुनाव में उनकी हार भाजपा के असहयोग और साज़िश के कारण हुई है।

एक दिन पहले ही मंत्रिमंडल विस्तार में हो रही देरी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक बार फिर भाजपा को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा था कि, बिहार में उनके कार्यकाल में पहले ऐसा कभी नहीं हुआ है कि मंत्रिमंडल विस्तार में इतनी देर हुई हो। हमेशा से हम शुरुआत में ही पूरे मंत्रिमंडल का विस्तार कर देते थे।

शनिवार को बिहार के पटना में जेडीयू राज्य परिषद और पार्टी पदाधिकारियों की बैठक के दौरान कमोबेश सभी हारे हुए उम्मीदवारों ने अपनी हार का ठीकरा भाजपा के ऊपर फोड़ा।

बैठक में नीतीश कुमार के सामने एक के बाद एक पार्टी के पूर्व विधायकों ने कहा कि चिराग़ पासवान एक मोहरा थे और पर्दे के पीछे सारा खेल भाजपा ने किया। पटना में उनके नेता भले जो दावा करते हों लेकिन ज़मीन पर ना उनके वोटर, ना उनके कार्यकर्ताओं का सहयोग जनता दल यूनाइटेड के प्रत्याशियों को मिला। सीमांचल के प्रत्याशियों का कहना था कि जहाँ पार्टी का एनआरसी पर स्टैंड कुछ और था वहीं भाजपा के पूर्व मंत्री के बयान के कारण जनता में भ्रम की स्थिति फैली और इसका ख़ामियाज़ा उन्हें उठाना पड़ा।

अंततः नीतीश कुमार ने स्वीकार किया कि सीटों का तालमेल समय पर नहीं हुआ। जब वो प्रचार कर लौट के आते थे, तब उन्हें इस बात का एहसास होता था कि ज़मीनी हक़ीक़त अलग है, लेकिन इसके लिए उन्होंने सोशल मीडिया को ज़िम्मेवार माना जिसने एक नेगेटिव इमेज उनकी सरकार की बनायी। नीतीश ने फिर दोहराया कि वो मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहते थे लेकिन भाजपा और अन्य सहयोगियों के दबाव में शपथ लिया।

Updated : 10 Jan 2021 6:59 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top