Top
Home > राज्यवार > बिहार > पटना में दानापुर के पीपा पुल को तोड़ वैन गंगा में समाई, एक परिवार के 9 लोगों की मौत

पटना में दानापुर के पीपा पुल को तोड़ वैन गंगा में समाई, एक परिवार के 9 लोगों की मौत

बिहार राजधानी पटना में शुक्रवार की अल सुबह बड़ा हादसा हो गया है। यहां एक सवारी गाड़ी गंगा में डूब गई। हादसे में एक ही परिवार के 9 लोगों की मौत हो गई।

पटना में दानापुर के पीपा पुल को तोड़ वैन गंगा में समाई, एक परिवार के 9 लोगों की मौत
X

उदय सर्वोदय

बिहार : बिहार राजधानी पटना में शुक्रवार की अल सुबह बड़ा हादसा हो गया है। यहां एक सवारी गाड़ी गंगा में डूब गई। हादसे में एक ही परिवार के 9 लोगों की मौत हो गई, जबकि ड्राइवर और वैन के ऊपर बैठे 2 लोग तैरकर बाहर निकल गए। शुरू में इस गाड़ी पर 18 लोगों के होने की बात आई थी, लेकिन जिंदा बचे लोगों ने गोताखोरों की मेहनत से निकाली गई 1 लाश और समाई वैन के अंदर मिली 8 लाशों की पहचान करने के बाद बताया कि इतने ही लोग थे।





बुधवार को चंद्रदेव सिंह के यहां अकिलपुर दियारा में तिलक समारोह था। इसी परिवार का घर दानापुर नासरीगंज में भी है। शादी का कार्यक्रम नासरीगंज से होना तय था। शादी 26 अप्रैल को होनी थी। इसी को लेकर सामान के साथ एक दर्जन से ऊपर घर के सगे-संबंधी दानापुर पीपापुल के रास्ते नासरीगंज आ रहे थे। इसी बीच गाड़ी पीपा पुल से अनियंत्रित होकर गंगा नदी में गिर गई। स्थानीय लोगों ने नाव के सहारे गाड़ी को निकालने का भरसक प्रयास किया लेकिन गाड़ी निकालने में नाकामयाब रहे। मरने वालों में रामाकांत राय (75 वर्ष), अरविंद कुमार (50 वर्ष), गीता देवी (60 वर्ष), सरोज देवी (65 वर्ष), आशीष कुमार (8 वर्ष), अनुराधा देवी (75) और अनुराधा देवी का एक पोते व पोती शामिल हैं।




बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में अस्थायी रूप से लोहे के पीपा से तैयार होने वाले पुल से कोई भी गाड़ी गुजरती है तो इसमें कंपन होता है। शुक्रवार को जब पीपा पुल की रेलिंग को तोड़ती हुई यह वैन पुल में गिरी तो तेजी से पुल हिला। यह देखकर पीछे की गाड़ियां तेजी से घटनास्थल पर पहुंचीं, लेकिन तबतक पिकअप वैन गंगा में समा गई। लोगों का शोर सुन दोनों तरफ से करीब 2 हजार से ज्यादा लोग पुल पर पहुंच गए, जबकि करीब 10 हजार से ज्यादा लोग गंगा किनारे जुट गए।

किसी भी गाड़ी की छत पर बैठना मना भी है और खतरनाक भी, लेकिन शुक्रवार को गंगा में समाने वाली पिकअप वैन के ड्राइवर के अलावा इसकी छत पर बैठे 2 लोग ही जिंदा बचे। वैन के अंदर जितने लोग थे, वह उसी के अंदर बैठे रह गए और गंगा के पानी में दम घुटने से उनकी मौत हो गई। हादसे के कुछ पल के अंदर गाड़ी से बाहर निकले शख्स की लाश सबसे पहले गोताखोरों ने निकाली थी।

Updated : 23 April 2021 8:13 AM GMT
Tags:    

Shivani

Magazine | Portal | Channel


Next Story
Share it
Top