अमेज़न सीईओ जेफ़ बेजोस की भारत यात्रा का विरोध करेंगे व्यापारी

अमेज़न सीईओ जेफ़ बेजोस की भारत यात्रा का विरोध करेंगे व्यापारी

रिपोर्ट ¦ देब दुलाल पहाड़ी

अमेज़ॅन के सीईओ जेफ बेजोस की 15 जनवरी  2020  को होने वाली भारत यात्रा का कैट के बैनर तले ऑल इंडिया मोबाइल रीटेलर्ज़ एसोसियशन, ऑल इंडिया कन्सूमर प्रॉडक्ट्स डिस्ट्रिब्युटर्ज़ फ़ेडरेशन सहित देश के 5000 से ज़्यादा  व्यापारी संगठनों के लाखों व्यापारी देश भर के विभिन्न राज्यों के 300 से अधिक धाराओं में हल्ला बोल विरोध प्रदर्शन करेंगे ।

रिपोर्ट के अनुसार जेफ़ बेजोस प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी से भी मिल सकते हैं ।कैट ने प्रधानमंत्री को गत सप्ताह एक पत्र भेजकर माँग की है की जेफ़ बेजोस से मिलने से पहले प्रधानमंत्री कैट के एक प्रतिनिधिमंडल से मिलें जिससे अमज़ोन की वास्तविकता से प्रधानमंत्री को अवगत कराया जा सके । अमज़ोन और फ्लिपकार्ट की अनैतिक व्यापार करने की वजह से देश में लाखों कारोबारियों का व्यापार चौपट हो गया है और दोनों कम्पनियाँ बहुत ही खुले रूप से एफ़डीआइ पॉलिसी का उल्लंघन कर रही हैं ।

कैट राष्ट्रीय अध्यक्ष बी सी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री  प्रवीन खंडेलवाल ने जेफ़ बेजोस की यात्रा पर टिपण्णी करते हुए कहा की जेफ़ बेजोस की यात्रा की उनकी यात्रा कुछ और नहीं है बल्कि सरकार को यह भरमाने की चेष्टा है की ऐमज़ॉन का ई कॉमर्स पोर्टल छोटे व्यापारियों को व्यापार करने के बड़े अवसर प्रदान करता है जो की एक सफ़ेद झूठ है ।

जेफ बेजोस की यात्रा पर भरतिया एवं  खंडेलवाल ने कहा कि वह छोटे खुदरा विक्रेताओं को सशक्त बनाने की एक झूठी कहानी बनाने के लिए आ रहे हैं और अमेज़ॅन की खराब प्रथाओं और अमेज़न द्वारा  एफडीआई नीति के उल्लंघन करने पर तथ्यहीन तर्कों एवं छोटे व्यापारियों को समृद्ध बनाने की झूठी कहानी गड़ेंगे !

भरतिया एवं  खंडेलवाल ने कहा कि कथित रूप से खुदरा विक्रेताओं को सशक्त बनाने के लिए अमज़ोन को संभव नामक एक सम्मेलन आयोजित करने की आवश्यकता क्या है। अमेज़ॅन के पास अपने पोर्टल्स पर पहले से ही 5 लाख रिटेलर्स हैं, जो वे दावा करते हैं। उन्हें यह घोषणा करनी चाहिए कि मौजूदा खुदरा विक्रेताओं को उनके पोर्टल  पर सशक्त बनाने के लिए उन्होंने अब तक क्या किया है। पिछले 5 साल से ये 5 लाख छोटे रिटेलर सालाना कितना कारोबार कर रहे हैं। क्या उनमें से कोई भी पिछले 5 वर्षों के दौरान शीर्ष 20 विक्रेताओं के रूप में सूचीबद्ध है। इन सवालों के जवाब अमेज़न के व्यापार करने की मंशा को उजागर करेंगे।

दोनों व्यापारी नेताओं  ने कहा की अमेज़ॅन द्वारा समभाव नाम से सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है जिसमें जेफ़  बेजोस व्याख्यान देंगे यह एक सोची समझी रणनीति का हिस्सा है क्योंकि कैट ने अमेज़ॅन और फ्लिपकार्ट के खिलाफ पहले से ही एक सफल राष्ट्रव्यापी अभियान शुरू किया है और इस तथ्य को स्थापित किया है कि अमेज़ॅन और फ्लिपकार्ट दोनों नीति और कानून के आदतन अपराधी हैं, जिन्हें कई बार विभिन्न देशों में विश्वास विरोधी नीतियों के लिए दोषी ठहराया गया है ! अमेज़न एवं फ्लिपकार्ट आर्थिक आतंकवादी है जो भारत के ई-कॉमर्स और खुदरा व्यापार को नष्ट करने के लिए प्रतिबध्द है और भारत के खुदरा व्यापार और ई-कॉमर्स बाजार पर नियंत्रण करने  प्रभुत्व और एकाधिकार बनाने के लिए सभी रास्ते अपना कर देश में  क्रोनी पूंजीवाद बनाने की कोशिश कर रहे हैं और इसीलिए वो लागत से भी कम मूल्य पर माल बेचना, भारी डिस्काउंट देना, सामान की एक्सक्लूसिविटी और   तरजीही विक्रेता प्रणाली के माध्यम से भारत में अपना व्यापार कर रहे हैं !

जेफ़ बेजोस के भारत आगमन के दिन 15 जनवरी को व्यापारी देश भर में राष्ट्रीय विरोध दिवस के रूप में मनाएँगे और इस दिन देश के सभी राज्यों के अलग-अलग शहरों में व्यापारियों द्वारा हल्ला बोल रैली और धरने आयोजित कर जेफ़ बेजोस और अमेज़न का जोरदार विरोध होगा।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *