Home > राज्यवार > दिल्ली > व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की शुरुआत के लिए चाणक्य अकैडमी ने एमईपीएससी से हाथ मिलाया

व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की शुरुआत के लिए चाणक्य अकैडमी ने एमईपीएससी से हाथ मिलाया

व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की शुरुआत के लिए चाणक्य अकैडमी ने एमईपीएससी से हाथ मिलाया
X

ब्यूरो रिपोर्ट नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘स्किल इंडिया’ की पहल को बढ़ावा देने के लिए चाणक्य आईएएस अकैडमी ने पैन इंडिया में व्यावसायिक पाठ्यक्रमों को शुरू करने के लिए एमईपीएससी के साथ अग्रीमेंट (दो या अधिक लोगों के बीच समझौता) पर हस्ताक्षर कर दिया है।सिविल सेवा परीक्षा के लिए एक अग्रणी संस्थान होने के नाते चाणक्य आईएएस अकैडमी, सिविल सेवा और अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के क्षेत्र में छात्रों की शिक्षा को और बेहतर करने में हमेशा सबसे आगे रहा है। राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (एनएसडीसी) के तहत एमईपीएससी के साथ हाथ मिलाकर चाणक्य आईएएस अकैडमी ने एक और चुनौती को पूरा कर लिया।चाणक्य आईएएस अकैडमी के संस्थापक और प्रबंध निदेशक, श्री. ए.के मिश्रा और एमईपीएससी के सीईओ, कर्नल पोखरियाल के बीच इस अग्रीमेंट साइन किया गया। एमईपीएससी का ट्रेनिंग पार्टनर होने के नाते चाणक्य आईएएस अकैडमी, मैनेजमेंट स्किल्स, व्यावसाय, प्रोफेशनल स्किल्स और अन्य संबंधित क्षेत्रों पर ट्रेनिंग कार्यक्रम का आयोजन करेगी साथ ही ट्रेनर को और अच्छे से ट्रेन करने का भी काम करेगी। इस तरह यह अकैडमी देश में रोजगार के लिए बेहतर लोगों और टैलेंट को तैयार करेगी।चाणक्य आईएएस अकैडमी के संस्थापक और प्रबंध निदेशक, श्री. ए.के मिश्रा ने बताया कि, “हमारे ट्रेनिंग और विकास कार्यक्रम बदलते वक्त की मांगों को पूरा करने का इरादा रखते हैं। इस प्रकार, ट्रेनर की महत्वपूर्ण भूमिका को एक प्रदाता, फैसिलिटेटर और चेंज-एजेंट के रूप में पहचानना आवश्यक है जिनपर छात्रों का भविष्य निर्भर करता है।”मास्टर ट्रेनर प्रोग्राम को ट्रेनर्स के लिए एक अनूठी सोच के साथ डिजाइन किया गया है जहां वे अपने कौशल का विकास कर सकेंगे और छात्रों को बेहतर ट्रेनिंग का वातावरण देने में सक्षम हो सकेंगे। सर्वश्रेष्ठ ट्रेनर्स को उनकी क्वालीफिकेशन को देखते हुए इस ट्रेनिंग की सुविधा दी जाएगी।

Updated : 5 Aug 2019 1:34 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top