Home > राज्यवार > उत्तर प्रदेश > पुलिस के विरोध प्रदर्शन से सीएम योगी नाराज, उठाया ये कड़ा कदम

पुलिस के विरोध प्रदर्शन से सीएम योगी नाराज, उठाया ये कड़ा कदम

पुलिस के विरोध प्रदर्शन से सीएम योगी नाराज, उठाया ये कड़ा कदम
X

लखनऊ । लखनऊ में हुए विवेक तिवारी के मर्डर केस में उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा आरोपी सिपाही प्रशांत चौधरी को समर्थन दिए जाने से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ काफी नाराज हैं। यूपी पुलिस ने आरोपी सिपाही प्रशांत चौधरी की गिरफ्तारी और सस्पेंड किए जाने के बाद 5 अक्टूबर को काला दिवस मनाया था, इससे नाराज हो कर सीएम योगी ने आलाधिकारियों को जमकर फटकार भी लगाई हैं। साथ ही आरोपी के खिलाफ हुई कार्रवाई का विरोध जताने के लिए तीन पुलिसकर्मियों को भी सस्पेंड कर दिया और तीन थाना अध्यक्षों के तबादलें भी किए गए हैं।इसके साथ ही प्रशासन द्वारा भी आदेश दिया गया है कि कोई भी पुलिसकर्मी सोशल मीडिया पर विभाग के खिलाफ किसी भी तरह का पोस्ट लिखेगा। आपको बता दें कि इससे पहले कुछ पुलिस सिपाही ने आरोपी के सर्मथन में फेसबुक पर पोस्ट किया था जिसके बाद विभागीय कार्रवाई करते हुए सिपाही सर्वेश चौधरी को सस्पेंड कर दिया गया था। आईजी एलओ प्रवीण कुमार के मुताबिक एटा के पुलिस सिपाही सर्वेश चौधरी को फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने के आरोप में सस्पेंड कर दिया गया था। इसके अलावा इस सिपाही के खिलाफ विभागीय जांच भी की जा रही है। इस सिपाही के अलावा कुछ और सिपाही भी सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डाल रहे हैं जिनके खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में एफआईआर दर्ज की गई है।हत्या के आरोपी के समर्थन में आए पुलिसकर्मियों का कहना है कि मामले की जांच किए बिना ओरोपी सिपाही को बर्खास्त कर जेल भेजा गया है। इसके बाद पुलिस वेलफेयर एसोसिएशन ने आरोपी पुलिसवालों के पक्ष में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एक पत्र लिखा है। इस पत्र में लिखा गया है कि जिन भी पुलिस सिपाही ड्यूटी के दौरान अपनी जान गंवाई है उनके परिवार वालों की तरह ही 40-40 लाख रुपये दिए जाएं और उनके परिवार वालों और बच्चों को सरकारी नौकरी दी जाए।

Updated : 6 Oct 2018 5:22 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top