Top
Home > राज्यवार > पश्चिम बंगाल > प्रियंका गांधी के आने से 2G से 3G हो गई कांग्रेस : अमित शाह

प्रियंका गांधी के आने से 2G से 3G हो गई कांग्रेस : अमित शाह

प्रियंका गांधी के आने से 2G से 3G हो गई कांग्रेस : अमित शाह
X

नई दिल्ली (दिल्ली ब्यूरो) : भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को पूर्वी मिदनापुर (पश्चिम बंगाल) जिले के काँथि रेलवे स्टेशन रोड मैदान, पद्मपुकरिया (कोंट्टई) में एक विशाल जन-सभा को संबोधित किया और कार्यकर्ताओं से राज्य की भ्रष्टाचारी एवं अराजक तृणमूल सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान करते हुए भाजपा की सरकार बनाने का आह्वान किया.अमर शहीद खुदीराम बोस की जन्मभूमि और बंकिम चन्द्र चटर्जी जी की कर्मभूमि को नमन करते हुए शाह ने कहा कि 2019 का लोक सभा चुनाव ‘सोनार बांग्ला' के निर्माण का चुनाव है, सोनार बांग्ला की संकल्पना को साकार करने का चुनाव है. उन्होंने कहा कि जहां लोकतंत्र की जड़ें मजबूत नहीं होती, वहां विकास संभव नहीं है. भाजपा ऐसे ‘सोनार बांग्ला' का निर्माण करना चाहती है, जो रवींद्र संगीत और चैतन्य महाप्रभु के भक्ति गीतों से गुंजायमान हो, जो स्वामी विवेकानंद और रामकृष्ण परमहंस के बताये रास्ते पर आगे बढ़ता हो. इसके लिए पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र को मजबूत करना आवश्यक है.ये भी पढ़ें... विचारधारा की लड़ाई है 2019 का चुनाव- अमित शाहममता पर किया जमकर वार पश्चिम बंगाल में तृणमूल सरकार के अलोकतांत्रिक रवैये पर बड़ा हमला करते हुए शाह ने कहा कि क्या पश्चिम बंगाल में हमें प्रचार करने का हक़ है या नहीं? हम रथ लेकर पश्चिम बंगाल के गाँव-गाँव जाना चाहते थे, घर-घर जाना चाहते थे, जन-जन तक जाना चाहते थे, लेकिन ममता दीदी ने हमें राज्य की जनता से मिलने नहीं दिया जबकि यह हमारा लोकतांत्रिक एवं जनतांत्रिक अधिकार है. ममता दीदी, आप चाहे जितने अवरोध पैदा कीजिये, हमारे कार्यकर्ता पश्चिम बंगाल के जन-जन तक कमल का संदेश लेकर जायेंगे.कांग्रेस सरकार गरीबी लाई https://twitter.com/AmitShah/status/1090259153946214400शाह ने कहा कि पश्चिम बंगाल में कांग्रेस की सरकार ने गरीबी लाने का पाप किया, कम्युनिस्ट सत्ता में आई तो हिंसा का दौर शुरू हुआ और जब ममता दीदी सरकार में आई तो गरीबी और हिंसा के साथ-साथ सिंडिकेट की अराजकता भी पश्चिम बंगाल में शुरू हो गई. चिटफंड वाले ममता दीदी की पेंटिंग्स को करोड़ों में खरीदते हैं. जब पेंटिंग वाले ही मुख्यमंत्री हो तो चिटफंड वाली कभी पकड़े भी जा सकते हैं क्या? पश्चिम बंगाल में गरीबों की कमाई चिटफंड घोटाला करने वाले लोग खा रहे हैं. पश्चिम बंगाल की जनता एक बार राज्य में परिवर्तन लाये, राज्य में भाजपा की सरकार बनाए, हम गरीबों का पैसा हड़पने वाले एक भी व्यक्ति को नहीं छोड़ेंगे और उनसे गरीबों की पाई-पाई वापस लाकर रहेंगे.परिवारवाद वाले क्या करेंगे देश का भलाशाह ने गांधी परिवार पर भी हमला बोला और कहा, ‘यूपीए की दस सालों की सोनिया गांधी और राहुल गांधी वाली 2G सरकार में 12 लाख करोड़ रुपये के घपले-घोटाले हुए थे. अब कांग्रेस ने भ्रष्टाचार की नई योजना बनाई है. प्रियंका वाड्रा के रूप में तीसरा ‘जी’ भी आ गया है. पता नहीं, अब यदि कांग्रेस की सरकार बनी तो कितने लाख करोड़ का घोटाला होगा? उन्होंने कहा कि कांग्रेस में तो परिवारवाद है ही, तृणमूल कांग्रेस भी इसी रास्ते पर चल रही है. जिस तरह कांग्रेस में नेहरू, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी के बाद सोनिया गांधी, सोनिया गांधी के बाद राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा का कब्जा है, ठीक उसी तरह तृणमूल कांग्रेस में भी ममता दीदी के बाद उनका भतीजा तैयार बैठा है. परिवारवाद में यकीन करने वाले लोग देश का भला नहीं कर सकते.ये भी पढ़ें... गठबंधन ढीली सरकार बनाना चाहता है- अमित शाहमहागठबंधन पर किया कटाक्ष शाह ने कहा कि तथाकथित महागठबंधन ‘मजबूर' सकरार चाहता है, जबकि देश की जनता ‘मजबूत' सरकार चाहती है और ‘मजबूत' सरकार भाजपा एवं प्रधानमंत्री मोदी जी के अलावा कोई और नहीं दे सकता. उन्होंने कहा कि भाजपा कहती है कि सरकार ऐसी होनी चाहिए जिसे देश का नेतृत्व करने वाला ‘लीडर’ चलाये, लेकिन तृणमूल कांग्रेस और कांग्रेस पार्टी चाहती है कि दलाली करने वाले ‘डीलर’ चलायें. पश्चिम बंगाल की जनता तय करे कि मोदी जी के नेतृत्व में ‘लीडर’ वाली सरकार चाहिए या फिर ममता दीदी और राहुल गांधी के नेतृत्व वाली ‘डीलर’ वाली सरकार.

Updated : 29 Jan 2019 4:45 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top