Home > राज्यवार > दिल्ली > GF समझकर पुलिस कांस्टेबल से कर रहा था चेट, हत्थे चढ़ा

GF समझकर पुलिस कांस्टेबल से कर रहा था चेट, हत्थे चढ़ा

GF समझकर पुलिस कांस्टेबल से कर रहा था चेट, हत्थे चढ़ा
X

दिल्ली, ब्यूरो | अपराधियों को पकड़ने के लिए पुलिस भागती है ये तो आम बात है, लेकिन यदि अपराधी ही गलती से खुद को पकडवाने आ जाए तो ये काफी सोचने वाली बात है। अब आधुनिक काल है हर कोई अपने नये नये हथकंडे अपना रहा है तो पुलिस क्यूँ पीछे रहे। दरअसल दिल्ली मुन्डका इलाके में एक महिला पुलिस कांस्टेबल ने एक ताबड़तोड़ तरीके से अपराधी को पकड़ में लिया है। अपराधी को भी खुद समझ नहीं आया कि ये हुआ क्या। महिला कांस्टेबल ने अपराधी को सोशियल मीडिया के जरिये मीठी मीठी बातों में फसाया, और फिर इसके बाद उसको मिलने बुला दिया। प्यार में पागल अपराधी इस साजिश को समझ नहीं पाया और जैसे ही अपराधी मिलने के बहाने बाहर आया, पुलिस ने तुरंत उसे पकड़ लिया। फिलहाल वह अब जेल में है।दरअसल कुछ समय पहले कुछ लुटेरे दिल्ली में एक कैब को लूटने में सफल हो गये थे। पुलिस जांच के दौरान पता लगा कि उन लुटेरों में से एक लुटेरा कुछ ज्यादा ही फ़ोन का प्रयोग कर रहा था। पुलिस ने लुटेरों तक पहुँचने के लिए लुटेरे की कॉल डिटेल निकलवा कर वो नंबर ढूंढ लिया जिस नंबर पर वह लुटेरा लगातार बात कर रहा था। वह नंबर लुटेरे की गर्लफ्रेंड का था। पुलिस ने उसकी गर्लफ्रेंड का फ़ोन जब्त कर लिया और उसी फ़ोन से लुटेरे के साथ चैटिंग कर लुटेरे को भरोसा दिलाने लगे कि हाँ ये उसकी गर्ल फ्रेंड ही है। इसके बाद उसी नंबर कि सहायता से पुलिस ने लुटेरे को मिलने को बुलाया। जैसे ही लुटेरे की बताई हुई जगह पर वह पहुंचा, तुरंत पुलिस ने उसे पकड़ लिया और पुलिस अपने इस केस में आरोपी को पकड़ने में पूरी तरह से कामयाब रही। इस प्रकार के नये नये तरीके देश की पुलिस को अपराधियों को पकड़ने में मदद कर सकते हैं। इनका उपयोग अपराधियों को पकड़ने के लिए होना चाहिए।

Updated : 16 Oct 2019 5:48 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top