डेविस कप पाकिस्तान में नहीं खेला जाएगा ?

नई दिल्ली, एजेंसी न्यूज। पाकिस्तान के साथ बढ़ते राजनयिक तनाव के बीच भारत का राष्ट्रीय टेनिस महासंघ आईटीएफ से अनुरोध करेगा कि वह अगले महीने इस्लामाबाद में होने वाले डेविस कप मुकाबलों का आयोजन किसी तटस्थ स्थान पर करे। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 केंद्र सरकार द्वारा हटाए जाने के बाद पाकिस्तान ने भारत के साथ राजनयिक संबंध कम करने का फैसला लेकर भारत के दूत से भी देश छोड़ने को कहा।

बता दें कि एआईटीए महासचिव हिरण्यमय चटर्जी ने कहा कि इससे मैच पर भी असर पड़ सकता है लेकिन अभी कुछ कहना जल्दबाजी है। इसके लिए मैं एक दो दिन और इंतजार करूंगा इसके बाद हम अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ से हालात पर गौर करके फैसला लेने का अनुरोध करेंगे। जरूरत पड़ने पर तटस्थ स्थान पर मुकाबला कराने का अनुरोध भी किया जाएगा। डेविस कप मुकाबले 14 और 15 सितंबर को होने है और खिलाड़ियों के लिए वीजा लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

चटर्जी ने कहा पाकिस्तान वीजा नहीं देता है तो हम वहां कैसे जाएंगे ? हो सकता है कि वह वीजा न दे और वीजा दे भी देता है तो क्या वे हमें पर्याप्त सुरक्षा दे सकेंगे। भारतीय डेविस कप टीम आखिरी बार 1964 में पाकिस्तान गई थी, दोनों देशों के द्विपक्षीय क्रिकेट संबंध भी 2008 के मुंबई आतंकी हमले के बाद से बंद है।

चटर्जी ने यह भी कहा कि पाकिस्तान ने कई मुकाबले तटस्थ स्थानों पर खेले हैं हम इसका ही अनुरोध करेंगे। हम आईटीएफ से यह नहीं कहेंगे कि हम पाकिस्तान नहीं जाएंग, हम वह रास्ता नहीं अपनाना चाहते, मैं नहीं चाहता कि टीम का नुकसान हो। सुरक्षा के मानदंड हमने नहीं आईटीएफ ने बनाए हैं, कोई भी अनहोनी होने पर वही जिम्मेदार होगा। इसलिए इस पर गंभीरता से उन्हें ही सोचना होगा।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *