Home > राज्यवार > दिल्ली > दिल्ली सरकार के रवैये पर हाईकोर्ट सख्त, कहा- सेना से मदद क्यों नहीं ली

दिल्ली सरकार के रवैये पर हाईकोर्ट सख्त, कहा- सेना से मदद क्यों नहीं ली

सुनवाई के दौरान कोर्ट ने दिल्ली सरकार से कहा है कि अगर आप सेना से अनुरोध करते, तो वे अपने स्तर पर काम करते। हम बेड बढ़ाने जा रहे हैं, यह कहने से समस्या का हल नहीं निकलेगा।

दिल्ली सरकार के रवैये पर हाईकोर्ट सख्त, कहा- सेना से मदद क्यों नहीं ली
X

उदय सर्वोदय

नई दिल्ली : राजधानी दिल्ली में कोरोना संकट को लेकर लगातार सुनवाई चल रही है। आज भी दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन सप्लाई, बेड और दवाओं की कमी को लेकर हाईकोर्ट में सुनवाई जारी है। इस दौरान कोर्ट ने दिल्ली सरकार को जमकर फटकारा है। वहीं, सुनवाई के दौरान दिल्ली के बत्रा अस्पताल ने हाईकोर्ट को बताया कि उनके यहां ऑक्सीजन की भारी किल्लत है। बत्रा अस्पताल के अधिकारियों का कहना है कि हम आज सुबह 6 बजे से SOS में हैं, हमारे पास 307 मरीज भर्ती हैं, जिनमें से 230 ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं।

दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा कि सब तनाव में हैं, यहां तक कि हम भी तनाव में हैं। हाईकोर्ट ने बत्रा हॉस्पिटल से कहा- आप डॉक्टर हैं, आपको अपनी नब्ज को पकड़ना होगा।

सुनवाई के दौरान कोर्ट ने दिल्ली सरकार से कहा है कि अगर आप सेना से अनुरोध करते, तो वे अपने स्तर पर काम करते। उनका अपना बुनियादी ढांचा है। हम बेड बढ़ाने जा रहे हैं, यह कहने से समस्या का हल नहीं निकलेगा। ऐसा तुरंत करिए।

वहीं दिल्ली सरकार का तर्क था कि हम जब खुद से दिल्ली में बेड की संख्या बढ़ाने जा रहे हैं तो हम पर आर्मी की मदद लेने के लिए लगातार जोर क्यों दिया जा रहा है। हम स्वयं 15000 बेड की संख्या बढ़ा रहे हैं।

Updated : 1 May 2021 9:41 AM GMT
Tags:    

Shivani

Magazine | Portal | Channel


Next Story
Share it
Top