Home > राज्यवार > दिल्ली > केजरीवाल ने नौ अस्पतालों में 22 नए पीएसए ऑक्सीजन प्लांट का किया उद्घाटन

केजरीवाल ने नौ अस्पतालों में 22 नए पीएसए ऑक्सीजन प्लांट का किया उद्घाटन

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज वर्चुअल माध्यम से दिल्ली सरकार के नौ अस्पतालों में स्थापित 22 नए पीएसए ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन किया।

केजरीवाल ने नौ अस्पतालों में 22 नए पीएसए ऑक्सीजन प्लांट का किया उद्घाटन
X

उदय सर्वोदय

नई दिल्ली : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज वर्चुअल माध्यम से दिल्ली सरकार के नौ अस्पतालों में स्थापित 22 नए पीएसए ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन किया।

सीएम केजरीवाल ने कहा कि इन प्लांट की संयुक्त क्षमता 17 टन है और अब तक दिल्ली में ऑक्सीजन के कुल 27 प्लांट चालू हो चुके हैं। केंद्र सरकार के भी छह ऑक्सीजन के प्लांट चालू हो गए हैं और केंद्र के सात प्लांट अभी आने वाले हैं। इसके अलावा, ऑक्सीजन के 17 और प्लांट जुलाई तक लग जाएंगे।

उन्होंने कहा, "तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर 'आप' की सरकार पूरी शिद्दत के साथ तैयारी कर रही है। हम हाथ पर हाथ रखकर नहीं बैठे हैं। कोरोना वायरस संक्रमण की इस लहर में हमें सबसे ज्यादा ऑक्सीजन की किल्लत महसूस हुई। कहीं से ऑक्सीजन मिली, तो उसे लाने के लिए हमारे पास टैंकर नहीं थे। इसलिए हम ऑक्सीजन टैंकर भी खरीद रहे रहे हैं। इससे पहले, हम भंडारण के लिए तीन ऑक्सीजन स्टोरेज टैंक और 13.5 टन संयुक्त क्षमता के दो ऑक्सीजन के प्लांट का भी उद्घाटन कर चुके हैं।"

उन्होंने कहा, "कोरोना की यह लहर देश के लिए भले ही दूसरी लहर रही हो, लेकिन हमारे दिल्ली के लिए यह चौथी लहर थी। दिल्ली के दो करोड़ लोगों ने कड़े संघर्ष और बड़े अनुशासन के साथ मिलकर इसका सामना किया और इस पर काबू पाने में हम लोग सफल रहे। इसमें हमारे डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिक स्टाफ, सफाई कर्मचारियों आदि ने बहुत बढ़-चढ़कर भूमिका अदा की। मैं कई डॉक्टर को जानता हूं, जो कई-कई दिनों तक अपने घर नहीं गए। उन सबके प्रति दिल्ली की जनता की तरफ से मैं आभार व्यक्त करता हूं। यह चौथी लहर बहुत भयानक थी। इसका आप इसी बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि जो पहली लहर आई थी, उसकी पीक के दौरान प्रतिदिन संक्रमण के 4500 मामले आए थे। पिछले साल सितंबर के आसपास जब दूसरी लहर आई थी, उसमें छह हजार के करीब मामले थे। जो तीसरी आई थी, उसमें 8500 मामले प्रतिदिन आए थे और यह जो चौथी लहर आई थी, उसमें केस 8500 से बढ़कर एकदम से 28,000 केस प्रतिदिन आ रहे थे।

सीएम केजरीवाल ने कहा, "इस बार बहुत ज्यादा लोग बीमार पड़ रहे थे। इस बार हमने कई सारे लोगों को खोया। अगर आप चारों तरफ अपने लोगों से बातचीत करें, तो ऐसा लगता है कि शायद ही कोई ऐसा घर था, जो कोरोना से अछूता रहा। हर घर में कोई न कोई बीमार पड़ा और लोगों ने कई अपनों को खोया लेकिन हम सब लोगों ने मिलकर इस का मुकाबला किया और इसमें इंडस्ट्री के सहयोग के लिए मैं बहुत-बहुत शुक्रगुजार हूं। दिल्ली सरकार की जिन लोगों ने मदद की, उन सभी का मैं तहेदिल से शुक्रिया अदा करना चाहता हूं और दिल्ली की जनता की तरफ से उनका आभार व्यक्त करना चाहता हूं।"

उन्होंने कहा, "अब हमें कोरोना की तीसरी लहर का डर है। यूनाइटेड किंगडम जो संकेत मिल रहे हैं, उनके अनुसार, वहां पर तीसरी लहर का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। वहां पर केस काफी ज्यादा बढ़ते जा रहे हैं, जबकि वहां पर 45 फीसद लोगों को वैक्सीन लग चुकी है। फिर भी केस बढ़ते जा रहे हैं। उसको मद्देनजर रखते हुए हमें हाथ पर हाथ रखकर नहीं बैठना है। हमें पूरी तैयारी करनी पड़ेगी और वही तैयारी पूरी शिद्दत के साथ 'आप'की सरकार कर रही है, हम लोग हाथ पर हाथ रखकर नहीं बैठे हैं।"

Updated : 2021-06-12T20:23:52+05:30
Tags:    

Shivani

Magazine | Portal | Channel


Next Story
Share it
Top