Home > राज्यवार > दिल्ली > MCD उपचुनाव: AAP ने जीतीं चार सीट, एक कांग्रेस के खाते में, BJP खाली हाथ

MCD उपचुनाव: AAP ने जीतीं चार सीट, एक कांग्रेस के खाते में, BJP खाली हाथ

इन उपचुनाव को 2022 की शुरुआत में सभी 272 एमसीडी वार्ड में होने वाले चुनाव से पहले सेमीफाइनल के तौर पर देखा जा रहा है।

MCD उपचुनाव: AAP ने जीतीं चार सीट, एक कांग्रेस के खाते में, BJP खाली हाथ
X

उदय सर्वोदय

नई दिल्ली: दिल्ली नगर निगम की 5 सीटों पर हुए उपचुनाव की आज मतगणना हुई। अंतिम नतीजों में चार सीटों पर आम आदमी पार्टी की जीत हो गई है वहीं एक सीट पर कांग्रेस के खाते में गई है। इस बार बीजेपी का खाता भी नहीं खुला है। इन उपचुनाव को 2022 की शुरुआत में सभी 272 एमसीडी वार्ड में होने वाले चुनाव से पहले सेमीफाइनल के तौर पर देखा जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक, मंगलोपुरी, शालीमार बाग उत्तर, त्रिलोकपुरी और रोहिणी सी वॉर्ड में आप की जीत हुई है। वहीं चौहान बांगर वॉर्ड में कांग्रेस उम्मीदवार को सफलता मिली है। 28 फरवरी को इन सीटों पर उपचुनाव हुआ था और 50 फीसदी से ज्यादा मतदान दर्ज किया गया था। इन 5 सीटों में से 4 सीटें पहले भी आम आदमी पार्टी के खाते में थीं और एक सीट बीजेपी के पास थी।

पांच में से चार वार्ड पर जीत से गदगद आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने पार्टी कार्यकर्ताओं को बधाई दी है। साथ ही अगले साल होने वाले एमसीडी चुनाव को लेकर कहा कि अगली बार अरविंद केजरीवाल की ईमानदार राजनीति दिल्ली की जनता चुनेगी।

सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, 'एमसीडी उपचुनाव में 5 में से 4 सीटें जीतने पर आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं को बधाई! बीजेपी के शासन से दिल्ली की जनता अब दुखी हो चुकी है। अगले साल होने वाले MCD चुनाव में जनता अरविंद केजरीवाल जी की ईमानदार और काम करने वाली राजनीति को लेकर आएगी।'

उन्होने यह भी कहा कि 5 में से 4 सीटें मिलना बहुत बड़ी जीत है। बीजेपी के 15 साल के शासन से दिल्ली की जनता तंग आ चुकी है और चाहती है कि झाड़ू लगाकर बीजेपी को नगर निगम से पूरी तरह साफ कर दिया जाए। अगले साल होने वाले नगर निगम चुनावों में भी बीजेपी का सूपड़ा साफ होगा।

वहीं आम आदमी पार्टी के नेता गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली नगर निगम में लंबे समय से भाजपा के पार्षदों द्वारा भ्रष्टाचार किया गया। पिछले 5 साल में जिस तरह से उनका निकम्मापन सामने आया है। दिल्ली की जनता ने एक बड़ा संदेश दिया है वह दिल्ली नगर निगम में भी बदलाव चाहती है।

Updated : 3 March 2021 6:00 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top