Top
Home > राज्यवार > बिहार > भूतही बलान पीड़ितों का जन्तर-मन्तर पर धरना प्रदर्शन

भूतही बलान पीड़ितों का जन्तर-मन्तर पर धरना प्रदर्शन

भूतही बलान पीड़ितों का जन्तर-मन्तर पर धरना प्रदर्शन
X

उदय सर्वोदया टीमनई दिल्ली। बिहार के मधुबनी जिला अंतर्गत भूतही बलान से पीड़ित 56 गांवों की जनता ने रेलवे से संबन्धित मांग को लेकर आज जन्तर मन्तर पर धरना प्रदर्शन किया। "भूतही बलान बाढ़ पीड़ित आंदोलन" के तहत इस धरना-प्रदर्शन में प्रत्येक 56 गाँव से बड़ी संख्या में लोग पहुचे। साथ ही कई समाजसेवीयों ने भी भाग लिया।भूतही बलान बाढ़ पीड़ित आंदोलन की पूरी टीम पहुंची राजघाटयह धरना-प्रदर्शन रेलवे से सम्बन्धीत मुख्य दो मांगों को लेकर किया गया था जिसमें पहली मांग थी " 2003- 2004 ईं से निर्माणाधीन सकरी भाया निर्मली से फारबिस गंज, सकरी से लौकहा और सहरसा से फारबिस गंज तक बड़ी रेलवे लाइन का निर्माण कार्य पुरा कर अविलंब चालू किया जाए। और दुसरी मांग थी घोघरडीहा से निर्मली के मध्य पुल नंबर 133 को भूतही बलान की पूर्वी तटबंध बनाने हेतु NOC दिया जाए"।धरना प्रदर्शन के दौरान "भूतही बलान बाढ़ पीड़ित आंदोलन" के संरक्षक कमल भंडारी ने बताया कि इस समस्या के समाधान हेतु हमलोग अधिकारी, जनप्रतिनिधि और सरकार के पास कई बार आवेदन देकर गुहार लगा चुके हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। अंत में हमलोगों ने सड़क पर उतरने का निर्णय लिया। अगर हमारी मांग को सही समय पर पुरा नहीं किया गया तो आगे भी प्रदर्शन करेंगे और आगामी लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करेंगे। वहीं इस आंदोलन के अध्यक्ष संतोष कुमार ने बताया कि 2003 से अब तक इस रेल खंड का कार्य पुरा नहीं होना दुर्भाग्य है और इसका जिम्मेदार 2003 से लेकर अबतक के सभी अधिकारी, जनप्रतिनिधि और सरकारें है। यह आंदोलन तब तक चलता रहेगा जबतक की धरातल पर काम की शुरुआत नहीं हो जातीं।Bhutahi-Balan_aमालूम हो कि इस क्षेत्र में बड़ी रेलवे लाइन का शिलान्यास 2003 ईं में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और तत्कालीन रेल मंत्री नीतीश कुमार ने किया था। इस रेल खंड को पूरा करने का टाइम 2010 ईं था, लेकिन अभी तक 50% भी कार्य पुरा नहीं हो पाया है। जबकि केन्द्र से कई बार फंड रिलीज हो चुका है।पूर्वी तटबंध बनाने हेतु जाँचोउपरांत विभाग को भेजी गई रिपोर्टधरना प्रदर्शन में आंदोलनकारियों ने निर्णय लेते हुए सामुहिक रूप से घोषणा किया कि अगर हमारी मांग को अविलंब पुरा नहीं किया गया तो आगामी फरवरी माह में बजट सत्र के दौरान संसद भवन को घेरेंगे साथ 2019 लोकसभा चुनाव मेन मत बहिसकार भी करेंगे।

Updated : 30 Dec 2018 2:25 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top