Top
Home > प्रमुख ख़बरें > न्यूनतम आय योजना पर जानें क्या है कांग्रेस का नया ऐलान

न्यूनतम आय योजना पर जानें क्या है कांग्रेस का नया ऐलान

न्यूनतम आय योजना पर जानें क्या है कांग्रेस का नया ऐलान
X

नई दिल्ली (एजेंसी) : कांग्रेस ने मंगलवार को न्यूनतम आय को लेकर नया ऐलान किया है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय में प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने यह जानकारी दी. सुरजेवाला ने कहा कि '72,000 रुपए घर की महिलाओं के खाते में जाएंगे'. उन्होंने सवाल किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यह बताएं कि वह इसके पक्ष में हैं या विरोध में.सुरजेवाला ने कहा कि '20% गरीब परिवारों को हर साल 72,000 मिलेंगे. यह योजना महिला केंद्रित है, यह पैसा गृहिणियों के खाते में जमा किया जाएगा.' उन्होंने कहा कि यह योजना शहरी और ग्रामीण दोनों गरीबों के लिए लागू की जाएगी.सुरजेवाला ने कहा कि, 'यह कांग्रेस की 'गरीबी मिटाओ न्याय यात्रा' की इस देश में नई शुरुआत है. "गरीब से न्याय और गरीब को न्याय"- यही है 'न्याय' यानी न्यूनतम आय योजना.' प्रेस वार्ता में सुरजेवाला ने दावा किया कि कांग्रेस सरकारों ने स्वतंत्रता के बाद भारत की गरीबी को 70% से घटाकर 22% कर दिया. उन्होंने कहा कि हम शेष भारत में 22% गरीबी को दूर करने के लिए काम करेंगे.प्रधानमंत्री मोदी पर हमला करते हुए सुरजेवाला ने कहा कि 'वह मुट्ठी भर व्यापारियों का 3,50,000 करोड़ रुपए माफ कर सकते हैं, लेकिन भारत के गरीबों के लिए ,72,000 देना उनके लिए तकलीफदेह है. बीजेपी इस योजना का विरोध क्यों कर रही है?'सुरजेवाला ने कहा कि जब 'श्री मोदी अपने प्रचार और विज्ञापनों के लिए ₹ 5,000 करोड़ खर्च कर सकते हैं, तो वे गरीब परिवार के लिए ,000 72,000 का विरोध क्यों कर रहे हैं?' सुरजेवाला ने कहा कि इसके तीन पहलू हैं. पहला कि 72,000 सालाना देश के 20% सबसे गरीब परिवारों को मिलेगा जिससे लगभग 5 करोड़ परिवार और 25 करोड़ लोगों को लाभ मिलेगा. उन्होंने कहा यह टॉप-अप स्किम नहीं है. यह महिला केंद्रित योजना है और पैसा घर की महिला के खाते में जमा होगा. सुरजेवाला ने कहा कि यह योजना पूरे देश के गरीबों पर लागू होगी.सुरजेवाला ने दावा किया कि आजाद हिंदुस्तान और पूरी दुनिया में गरीबी पर प्रहार करने वाली ये सबसे बड़ी योजना है. उन्होंने कहा कि 'सच्चाई यही है कि भाजपा और मोदी जी हमेशा देश के गरीब के विरोध में खड़े रहे हैं. प्रधानमंत्री बनते ही मोजी जी ने संसद में पहले ही भाषण में गरीबी को कुचलने वाली मनरेगा के विरोध किया. NSSO के आंकड़े बताते हैं कि मोदी जी के सत्ता में आने के बाद से 4 करोड़ नौकरियां खत्म हो गई. ' सुरजेवाला ने कहा कि मोदी जी, आपके द्वारा थोपी गयी जीएसटी ने छोटे उद्योगों को बर्बाद कर दिया.

Updated : 26 March 2019 7:10 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top