Top
Home > प्रमुख ख़बरें > पुलवामा हमले से देश के मुसलमानों में आक्रोश, शहीदों को दी श्रद्धांजलि

पुलवामा हमले से देश के मुसलमानों में आक्रोश, शहीदों को दी श्रद्धांजलि

पुलवामा हमले से देश के मुसलमानों में आक्रोश, शहीदों को दी श्रद्धांजलि
X

देहरादून (ब्यूरो रिपोर्ट) : कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकवादी हमले के बाद देश का हर शख्स गुस्से में है. हिन्दू हो या मुसलमान, पाक द्वारा संचालित आतंक के खिलाफ सभी ने एक सुर में आवाज उठाई है. इस कड़ी में शनिवार को जमीयत उलेमा हिन्द की महानगर शाखा के आह्वान पर मदरसा दार-ए-अरक़म के छात्रों-शिक्षको व आज़ाद कॉलोनीवासियो ने आज़ाद कॉलोनी से आईएसबीटी चौक तक प्रदर्शन कर आतंकवाद और पाकिस्तान का पुतला दहन किया.कार्यक्रम के मुताबिक, सुबह 11 बजे मदरसा दार-ए-अरक़म में सैकड़ों की तादाद में कालोनीवासी जमा हुए और वहां से प्रदर्शन करते हुए आगे बढ़े. प्रदर्शनकारी ‘आतंकवाद मुर्दाबाद’, ‘पाकिस्तान मुर्दाबाद’, और ‘देश के शहीद अमर रहे’ के नारे लगाते हुए हरिद्वार बाई पास से आईएसबीटी चौक पर पहुंचे. यहां पर आतंकवादियों की इस बुजदिलाना और दुस्साहसिक हरकत की निंदा की गई. तदुपरान्त आतंकवाद और पाकिस्तान का पुतला फूंका गया.इस मौके पर जमीयत उलेमा हिन्द के महानगर उपाध्यक्ष मोहम्मद शाहनज़र ने कहा, ‘अब इस तरह हमारे जवानों का खून बहाना बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. वक्त आ गया है कि आतंकवाद को संरक्षण देने वाले पाकिस्तान को सबक सिखाया जाए. अंत में सीआरपीएफ के जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए दो मिनट का मौन रखा गया.प्रदर्शनकारियों में मुफ़्ती अयाज़ अहमद, जमीयत के जिला उपाध्यक्ष मास्टर अब्दुल सत्तार, कारी वसीम अहमद, कारी शारिब, कारी आरिफ, हाजी शमशाद, हाफ़िज़ अकरम, कारी मुनव्वर, हाफिज हामिद हसन, तौसीफ अहमद, तौफ़ीक़ अहमद, तनवीर अहमद, मोहम्मद इरशाद, मोहम्मद साजिद, मोहम्मद रिज़वान, पार्षद आफताब अहमद, मास्टर शकील, डॉ मोईन, डॉ देवेंद्र सिंह,अतुल शर्मा, आलोक शर्मा, मोहम्मद अरशद, मोहम्मद अकरम, राव अब्दुल रहमान, हाजी शमशाद कुरेशी आदि शामिल रहे.

Updated : 17 Feb 2019 8:55 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top