Top
Home > प्रमुख ख़बरें > किसानों से लोकसभा चुनाव बाद आधार का बायोमैट्रिक लेगी सरकार, क्योंकि...!

किसानों से लोकसभा चुनाव बाद आधार का बायोमैट्रिक लेगी सरकार, क्योंकि...!

किसानों से लोकसभा चुनाव बाद आधार का बायोमैट्रिक लेगी सरकार, क्योंकि...!
X

नई दिल्ली (ब्यूरो रिपोर्ट) : प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम के तहत 2,000 रुपये की पहली किस्त दो करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खातों में आ चुकी है. लेकिन इसका लाभ लेने के लिए अब तक किसी भी किसान का आधार बायोमैट्रिक वेरीफिकेशन नहीं हुआ है. इसका वेरीफिकेशन तीसरी किस्त मिलने से पहले होगा. तब तक लोकसभा चुनाव बीत चुका होगा. जो इसके लिए पात्र नहीं होंगे और पैसा ले लिया है उनसे वह रकम सरकार वापस लेगी. सरकार की कोशिश है कि असली किसानों को ही लाभ मिले.ये भी पढ़ें ⇒ दिल्ली में किसानों का जमावड़ासरकार ने दूसरी किस्त के लिए आधार बायोमैट्रिक लेने में ढील क्यों दी? इसके बारे में कृषि मंत्रालय के अधिकारियों ने जानकारी दी है. मंत्रालय ने बताया है कि योजना की दूसरी किस्‍त के लिए मंत्रिमंडल ने आधार को अनिवार्य बनाया था. लेकिन अब इसमें ढील दी गई है. कृषि मंत्रालय के एक बयान में लिखा गया है, 'हालांकि दूसरी किस्‍त के लिए शत-प्रतिशत आधार डेटा प्राप्‍त करना कठिन है, क्‍योंकि इसके लिए बायोमैट्रिक प्रमाणन की जरूरत है. नामों की वर्तनी में अंतर से बड़े पैमाने पर लाभार्थियों के नाम रद्द हो जाएंगे.'ये भी पढ़ें ⇒ 30 नवंबर को किसानों का ऐतिहासिक संसद मार्च'लाभार्थियों के आधार ब्‍यौरे को प्रमाणित करने के कारण दूसरी किस्‍त को जारी करने में विलंब होगा. दूसरी किस्‍त को जारी करने की तिथि 01 अप्रैल, 2019 है. विलंब से किसानों में असंतोष बढ़ेगा, इसलिए आधार शर्त में ढील दी गई है. यह शर्त तीसरी किस्‍त जारी करने के लिए मान्‍य होगी. दूसरी किस्‍त के लिए केवल आधार संख्‍या को ही अनिवार्य माना जाएगा. भुगतान से पहले सरकार आंकड़ों को प्रमाणित करने के लिए पर्याप्‍त कदम उठाएगी.' प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना योजना के सीईओ विवेक अग्रवाल ने न्यूज18हिंदी से बातचीत में कहा, "आधार नंबर तो अब भी लिया जा रहा है, सिर्फ बायोमैट्रिक लेने में ढील दी गई है, जिसे तीसरी किस्त के लिए लिया जाएगा"

Updated : 10 March 2019 10:30 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top