Home > सेहत > आलू के ये फायदे जानकर आप इसे खाने से अब नहीं करेंगे परहेज

आलू के ये फायदे जानकर आप इसे खाने से अब नहीं करेंगे परहेज

आमतौर पर लोग मोटे होने के डर से आलू का सेवन करने से परहेज करते हैं। क्यूंकि आलू में सबसे अधिक मात्रा में स्टार्च पाया जाता है। आलू क्षरीय प्रवृत्ति का होता है। लेकिन आलू में विटामिन ए और विटामिन डी की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है।

आलू के ये फायदे जानकर आप इसे खाने से अब नहीं करेंगे परहेज
X

उदय सर्वोदय

क्या आप भी आलू खाने से भागते हैं ? क्या आप भी उन लोगों में से हैं जो मोटे होने के डर से आलू का सेवन करने से परहेज करते हैं ? तो अब नहीं करेंगे आलू के ये फायदे जानने के बाद।

आलू की सबसे बड़ी खूबी यह है कि वो हर सब्जी के साथ मिल जाता है। इसे बच्चे और बड़े, सभी बहुत चाव से खाते हैं।

आमतौर पर लोग मोटे होने के डर से आलू का सेवन करने से परहेज करते हैं। क्यूंकि आलू में सबसे अधिक मात्रा में स्टार्च पाया जाता है। आलू क्षरीय प्रवृत्ति का होता है। लेकिन आलू में विटामिन ए और विटामिन डी की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है।

अमूमन हमारे घरों में आलू का छिलका उतारकर ही उसे पकाया जाता है लेकिन आलू को छिलके समेत पकाना बहुत फायदेमंद होता है। इसका प्रमुख कारण यह है कि आलू के ज्यादातर पोषक तत्व उसके छिलके के ठीक नीचे होते हैं। ऐसे में गहरा छिलका निकलने पर उसके पोषक तत्व भी निकल जाते हैं। आलू में पर्यापत मात्रा में प्रोटीन और खनिज पाए जाते हैं।

आलू खाने के वे फायदे जो शायद आप नहीं जानते

* आलू का इस्तेमाल चोट या घाव लगने पर किया जाता है। कई बार चोट लगने पर नील पड़ जाता है। इस पर आलू पीसकर लगाने से फायदा होता है।

* झुर्रियों को कम करने के लिए भी आलू का इस्तेमाल किया जाता है। झुर्रियों वाली जगह पर आलू को पीसकर लगाना फायदेमंद होता है।

* विभिन्न प्रकार के त्वचीय रोगों में भी आलू का इस्तेमाल करना फायदेमंद होता है। त्वचीय संक्रमण को दूर करने के लिए भी इसके रस का इस्तेमाल किया जाता है।

* भूने हुए आलू के सेवन से कब्ज की समस्या में फायदा मिलता है।

* अगर आपको डार्क सर्कल की समस्या है तो आंखों के नीचे आलू का पेस्ट या रस लगाने से फायदा होता है।

एक बात जो बहुत महत्वपूर्ण है, वह यह कि आलू के हरे भाग को भूलकर भी नहीं खाना चाहिए। यह एक विषाक्त पदार्थ के प्रभाव से होता है।


Updated : 28 Sep 2021 7:54 AM GMT
Tags:    

Shivani

Magazine | Portal | Channel


Next Story
Share it
Top