Top
Home > प्रमुख ख़बरें > जैसलमेर में हाई अलर्ट, गांव खाली करने को तैयार रहने का निर्देश

जैसलमेर में हाई अलर्ट, गांव खाली करने को तैयार रहने का निर्देश

जैसलमेर में हाई अलर्ट, गांव खाली करने को तैयार रहने का निर्देश
X

जयपुर (ब्यूरो रिपोर्ट) : भारत-पाक सीमा पर इन दिनों हाई अलर्ट की स्थिति है और इस तनाव को देखते हुए भी सीमावर्ती गांवों के लोग भारतीय सेना के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े नजर आ रहे हैं. सीमा पर स्थित गांवों में आर्मी पहुंची है तथा विपरीत परिस्थिति में गांवों को खाली करने के लिए तैयार रहने के लिए कहा गया है.ये भी पढ़ें... एयर स्ट्राइक से पाकिस्तान में तूफान, बुलाया संसद का संयुक्त सत्रजैसलमेर में इन दिनों हाई अलर्ट है और बार्डर स्थित गांवों में सेना के अधिकारी जा रहे हैं. उन्होंने ग्रामीणों को हर परिस्थिति में तैयार रहने के लिए कहा है, साथ ही सीमा से लगते 90 किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी गांवों को विपरीत परिस्थिति में खाली करने के लिए तैयार रहने के लिए भी कहा गया है.ये भी पढ़ें...क्या पाक के पूर्व राष्ट्रपति परवेज़ मुशर्रफ को पता था कि इंडिया एयर स्ट्राइक करेगा?सीमावर्ती गांव तनोट के सरपंच डॉक्टर अशोक कुमार ने बताया, ‘सेना के अधिकारी उनके पास आए थे तथा उनसे अलर्ट पर रहने, हर संदिग्ध व्यक्ति पर नज़र रखने, अंजान की सूचना सेना को देने तथा सेना की हर संभव मदद की बात कही है. साथ ही अगर युद्ध की स्थिति बनती है तो गांव को खाली करके रामगढ़ कस्बे में चले जाने के लिए भी तैयार रहने के लिए निर्देशित किया गया है.'ये भी पढ़ें...पुलवामा हमला : तनाव के बीच पाक ने बनाया आपदा प्रबंधन सेलगांव तनोट के सरपंच डॉक्टर अशोक कुमार कहते हैं कि उन्होंने 1965 और 1971 की लड़ाई के वक्त भी ऐसी स्थिति के बारे में सुना था. हम हर परिस्थिति में सेना के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं तथा हर परिस्थिति से निपटने के लिए हर ग्रामवासी अपने आपको तैयार किए हुआ खड़ा है.

Updated : 28 Feb 2019 6:14 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top