Home > राज्यवार > दिल्ली > श्यामा प्रसाद मुखर्जी महिला महाविद्यालय में हुआ “इन डॉयलोग विथ महात्मा गांधी” संगोष्ठी का आयोजन

श्यामा प्रसाद मुखर्जी महिला महाविद्यालय में हुआ “इन डॉयलोग विथ महात्मा गांधी” संगोष्ठी का आयोजन

श्यामा प्रसाद मुखर्जी महिला महाविद्यालय  में हुआ “इन डॉयलोग विथ महात्मा गांधी” संगोष्ठी का आयोजन
X

नई दिल्ली, ब्यूरो | श्यामा प्रसाद मुखर्जी महिला महाविद्यालय के राजीव गांधी सभागार में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर “इन डॉयलोग विथ महात्मा गांधी” विषय पर दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी आरंभ हुआ। मुख्य अतिथि के रूप में प्रो. गिरीश्वर मिश्र और सम्मानीय अथिति प्रो. आनंद प्रकाश उपस्थित थे। इस अवसर पर महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ. साधना शर्मा ने अतिथियों के साथ संगोष्ठी पर एक स्मारिका का भी विमोचन किया। डॉ. साधना शर्मा ने अपने स्वागत भाषण में गांधी को एक प्रकाश स्तंभ की तरह बताते हुए उनकी सरलता और सहजता को सबसे महत्वपूर्ण बताया। विभिन्न विचारधाराओं वाले इस देश में गांधी सर्वमान्य हैं क्योंकि वे सामाजिक, धार्मिक सांस्कृतिक, राजनीतिक सहिष्णुता के प्रतीक हैं।संयोजक डॉ. वीरेंद्र प्रताप यादव ने अपने वक्तव्य में संगोष्ठी के केंद्रीय विषय से परिचित कराने के साथ ही दो दिवसीय संगोष्ठी की रूपरेखा भी प्रस्तुत की। उन्होंने अपने वक्तव्य में राष्ट्र निर्माण में गांधी के योगदान को रेखांकित किया। इस संदर्भ में गांधी के विचारों और कार्यों को जानना बहुत ही जरूरी है। शिक्षा आदि प्रत्येक क्षेत्र में स्वदेशी विचारों और आधारों का अपनाया जाना राष्ट्र निर्माण की मूलभूत शर्त है। आनंद प्रकाश ने भी अपने वक्तव्य में संगोष्ठी के विषय को आज के समय के लिए बहुत ही प्रासंगिक माना। आधुनिक समय के महान विचारकों में गांधी की चर्चा करते हुए उनके विचारों से संवाद पर बल दिया। तथा अंत में मुख्य अथिति गिरीश्वर मिश्र ने अपने वक्तव्य में गांधी और भारत को पर्याय माना। वह भारत की आत्मा हैं। गांधी का अपना पूरा जीवन एक संवाद की स्थिति है। संवाद के लिए गांधी जनता की भाषा की जरूरत पर बल देते हैं। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि गांधी अपनी पारदर्शिता के कारण प्रामाणिक व्यक्ति हैं। भारतीय होने के कारण हम उनकी विरासत हैं। मन, वचन और कर्म की एकता ही गांधी को महात्मा बनाती है और इस मार्ग का चयन कर ही भारत समुचित एवं सर्वांगीण विकास को सुनिश्चित कर सकता है।

Updated : 9 Nov 2019 2:46 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top