फडणवीस की महाजनादेश यात्रा पर छोड़े कड़कनाथ मुर्गे

फडणवीस की महाजनादेश यात्रा पर छोड़े कड़कनाथ मुर्गे

महाराष्ट्र, ब्यूरो |  स्वाभिमानी शेतकारी संगठन के कार्यकर्ताओं ने सांगली जिले में सोमवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की महाजनादेश यात्रा  के काफिले के रास्ते में कड़कनाथ मुर्गे और अंडे छोड़ने का प्रयास किया। लेकिन भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनका प्रयास विफल कर दिया। घटना यहां से करीब 230 किलोमीटर दूर पश्चिमी महाराष्ट्र के जिले के पालुस तालुका के कुंडल क्षेत्र में हुई। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार राजू शेट्टी के नेतृत्व वाली पार्टी के कुछ कार्यकर्ताओं ने मुर्गे छोड़ने का प्रयास किया। लेकिन मौके पर मौजूद भाजपा कार्यकर्ताओं ने उन्हें इससे रोक दिया।

दरअसल बात यह है कि एसएसएस एक कुक्कुट फर्म के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय से जांच की मांग कर रही है। जिस पर आरोप है कि उसने किसानों को कड़कनाथ मुर्गे के पालन में मदद का वादा करके 550 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की। हालांकि, प्रवर्तन निदेशालय का कहना है कि इस घोटाले में शामिल राशि करीब 95 करोड़ रुपये हो सकती है।  विशेषज्ञों के अनुसार कड़कनाथ मुर्गे के मांस में आयरन एवं प्रोटीन की मात्रा बहुत अधिक होती है, जबकि कॉलेस्ट्राल की मात्रा अन्य प्रजाति के मुर्गों से काफी कम पायी जाती है। इसलिए यह अन्य प्रजातियों के मुर्गों से अधिक कीमत में बेचा जाता है।

Uday Sarvodaya Team

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *