Home > राज्यवार > दिल्ली > केजरीवाल बदहाल प्रदूषण की चिंता करने की बजाय नूरा कुश्ती लड़ रहे है : अजय माकन

केजरीवाल बदहाल प्रदूषण की चिंता करने की बजाय नूरा कुश्ती लड़ रहे है : अजय माकन

केजरीवाल बदहाल प्रदूषण की चिंता करने की बजाय नूरा कुश्ती लड़ रहे है : अजय माकन
X

नई दिल्ली,दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री अजय माकन ने कहा कि दिल्ली में केजरीवाल सरकार और भाजपा नेता आपस में नूरा कुश्ती लड़ने की बजाय दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण पर नियंत्रण करने के लिए पर्याप्त कदम उठाए क्योंकि प्रदूषण की वजह से दिल्ली में रहने वाले लोगों की उम्र 10 वर्ष कम हो रही है। हजारों कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री अजय माकन के नेतृत्व में दिल्ली में आम आदमी पार्टी की केजरीवाल सरकार और भाजपा शासित निगमों के बढ़ते प्रदूषण के प्रति उदासीन रवैये के खिलाफ व कुम्भकरणी नींद से जगाने के लिए राजीव चौक कनॉट प्लेस में मार्च निकाला। श्री माकन ने कहा कि दुर्भाग्यवश केन्द्र की मोदी सरकार और दिल्ली में केजरीवाल सरकार दोनो आपस में सत्ता की लड़ाई कर रहे है, प्रदूषण नियंत्रण करने की जगह आजकल इन दोनो में चर्चा यह हो रही है कि मिर्ची किसने फेकी, थप्पड़ किसने मारा, चप्पल किसने फैंकी। उन्होंने कहा कि अगर दोनो सरकारों ने प्रदूषण की समस्या पर नियंत्रण नही पाया तो दिल्ली के लोग भाजपा और आप पार्टी की सरकारों को माफ नही करेंगे। हजारों प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए श्री अजय माकन ने कहा कि दिल्ली में कुल वायु प्रदूषण का 48 प्रतिशत प्रदूषण सिर्फ वाहनों की वजह से है और पिछले 5 वर्षों में वाहनों से होने वाले प्रदूषण में 40 प्रतिशत प्रदूषण की वृद्धि हुई है। पूरी दिल्ली वायु प्रदूषण से बेहाल है, प्रदूषण की वजह से लोगों की जाने जा रही है। प्रदूषण विरोध मार्च में प्रदेश अध्यक्ष श्री अजय माकन के अलावा पूर्व सांसद रमेश कुमार, पूर्व मंत्री दिल्ली सरकार हारुन यूसूफ, डा0 नरेन्द्र नाथ, मुख्य प्रवक्ता शर्मिष्ठा मुखर्जी,पूर्व मंत्री दिल्ली सरकार पूर्व विधायक श्री मुकेश शर्मा और नसीब सिंह, वरिष्ठ नेता श्री चत्तर सिंह, ब्रहम यादव, महमूद जिया, पूर्व विधायक मालाराम गंगवाल, विपिन शर्मा,अरविन्दर सिंह लवली, प्रवक्ता पूजा बाहरी, जगजीवन शर्मा, जिला अध्यक्ष विरेन्द्र कसाना, मदन खोरवाल, इन्द्रजीत सिंह, एडवोकेट दिनेश कुमार, गुरचरण सिंह राजु, मौहम्मद उस्मान, हरी किशन जिंदल, ओम दत यादव, विष्णु अग्रवाल, निगम में विपक्ष के नेता मुकेश गोयल और अभिषेक दत, प्रेरणा सिंह, आई टी सैल अनिरुद्ध शर्मा, जगप्रवेश कुमार,अब्दुल वाहिद कुरेशी, एडवोकेट सुनील कुमार, मेहदी माजिद सहित सैंकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे।प्रदर्शनकारी हाथों में तख्तियां लिए हुए ‘‘वायु प्रदूषण के खिलाफ, सोई सरकार जगाओ’’, ‘‘नूरा कुश्ती बंद करो, दिल्ली को वायु प्रदूषण से बचाओ’’ आदि नारे लगा रहे थे। कांग्रेस के मार्च में काफी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता मेट्रो से भी आए।

सिग्नेचर ब्रिज पर बाइक से स्टंट कर रहे 2 युवकों की मौत

प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए श्री अजय माकन ने कहा कि प्रदूषण का मुख्य कारण दिल्ली की परिवहन व्यवस्था बद से बदतर होना है। वर्तमान सरकार ने डीटीसी के बेड़े में एक भी बस नही जोड़ी है और मेट्रो के तीसरे फेस का काम 2 साल लेट चल रहा है। मेट्रो के चौथे फेस का कही अता-पता नही है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल पर मिर्च पाउडर फेंका जाना बहुत दुखद है इस हमले की जितनी भी भत्र्सना की जाए वह कम है-मनोज तिवारी

श्री माकन ने कहा कि प्रदूषण को नियंत्रित रखने के लिए कांग्रेस पार्टी ने अपने 15 वर्षों के शासन के दौरान दिल्ली में 22 प्रतिशत ग्रीन कवर क्षेत्र बढ़ाया। दिल्ली को ग्रीन सिटी का अवार्ड भी मिला। कांग्रेस की दिल्ली सरकार सीएनजी लेकर आई, बसों, ऑटो व टैक्सियों आदि 1 लाख वाहनों को सीएनजी में बदला। डीटीसी के बेड़े में बसें बढ़ाई, मेट्रो लेकर आए। पूरी दुनियां में कांग्रेस सरकार की वाहवाही हुई। श्री माकन ने कहा कि क्या कारण है कि दिल्ली की खुशहाली और लोगों के स्वास्थ्य के लिए जब कांग्रेस सरकार यह सब कर सकती थी तो आप पार्टी की केजरीवाल सरकार यह सब क्यों नही कर सकती। श्री माकन ने कहा कि केजरीवाल जी दिल्ली में बदहाल प्रदूषण की चिंता करने की बजाय आपस में नूरा कुश्ती लड़ रहे है। श्री माकन ने कहा कि दिल्ली के इतिहास में यह पहली बार हो रहा है कि दिल्ली के 10वें मुख्यमंत्री केजरीवाल जी पर हमले हुए है जबकि इनसे पहले दिल्ली के 9 मुख्यमंत्रियों पर किसी भी प्रकार का कोई हमला नही हुआ। केजरीवाल जी की कभी पिटाई हो जाती है, कभी जूता फैंका जाता, कभी स्याही फैंकी जाती है और अब उन पर मिर्ची पाउडर का हमला हुआ है। श्री माकन ने कहा कि आप पार्टी के नेता और भाजपा के नेता आपस में नूरा कुश्ती करना बंद करें और कांग्रेस के जिस तरीके से दिल्ली के विकास के लिए कार्य किया उस तरीके से कार्य कर सकते है। माकन ने कहा कि दिल्ली में कांग्रेस की सरकार डीटीसी के बेड़े में जितनी बसे छोड़कर गई थी उसमें से 1500 बसे गायब हो गई है। केजरीवाल सरकार द्वारा एक भी नई बस डीटीसी बेड़े में जोड़ी नही गई है। श्री माकन ने कहा कि कांग्रेस कार्यकाल में डीटीसी में पेसेन्जर ट्रिप के अन्तर्गत प्रतिदिन 45 लाख लोग यात्रा करते थे, जो आप पार्टी की केजरीवाल सरकार के शासन में घटकर प्रतिदिन 25 लाख पेसेन्जर रह गए हैं। उन्होंने कहा कि नई बसे नहीं आ रही है, नई मेट्रो शुरु नही की जा रही है। लोगों को अपने काम पूरे करने के लिए मजबूरन अपने नीजि वाहन निकालने पड़ रहे है, जिससे प्रदूषण अधिक मात्रा में बढ़ रहा है। श्री माकन ने कहा कि ईपीसीए ने सलाह दी है कि बिना सीएनजी के प्राईवेट वाहन दिल्ली में नही चलेंगे। अगर ऐसा होगा तो दिल्ली ठप्प हो जाएगी और बेरोजगारी बढ़ जाएगी।

Updated : 23 Nov 2018 6:23 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top