Top
Home > राज्यवार > बाढ़ की वजह से मासूम बच्ची को नसीब हुई नई जिंदगी

बाढ़ की वजह से मासूम बच्ची को नसीब हुई नई जिंदगी

बाढ़ की वजह से मासूम बच्ची को नसीब हुई नई जिंदगी
X

मुंबई,एजेंसी। बाढ़, आंधी, तू्फान आने से लोगों के आशियाने उजड़ जाते हैं, लोग अपनों से बिछड़ तक जाते हैं, लेकिन महाराष्‍ट्र के सांगली में आई बाढ़ के कारण दो महीने की एक बच्ची को नई जिंदगी नसीब हुई है। दरअसल बाढ़ से बचाए जाने के बाद बच्ची को इलाज के लिए जब अस्पताल ले जाया गया तब पता चला कि उसे हृदय की गंभीर बीमारी है और उसे तत्काल ऑपरेशन की जरूरत है।परिवार वालों से मिली जानकारी के अनुसार बाढ़ के कारण उनका पूरा घर लगभग डूब गया था। घर वालों को एनडीआरएफ ने रेस्क्यू किया और सबको शेल्टर होम ले जाया गया। बच्ची की उम्र कम हाने से वह संक्रमण का शिकार हो गई और उसे स्थानीय अस्पताल में भर्ती करना पड़ा। स्थिति में सुधार न होता देख निमोनिया के शक पर बच्ची को मुंबई के वाडिया अस्पताल ट्रांसफर कर दिया गया। यहां जांच में न केवल बच्ची निमोनिया से ग्रसित पाई गई, बल्कि कांजिनेंटल हॉर्ट (दिल में छेद की समस्या) की बात सामने आई।बता दें कि वाडिया अस्पताल के अनुसार बच्ची को जल्द सर्जरी की जरूरत है। निमोनिया का इलाज चल रहा है उसकी स्थिति सामान्य है, उसकी स्थिति स्थिर होने के बाद ही सर्जरी की जाएगी। बच्ची के पिता संदीप शिंदे सब्जी बेचते हैं, इस बारिश में उनका घर बर्बाद हो गया है और रोजी-रोटी का जरिया भी खत्म हो गया है परिवार वालों पर बाढ़ की दोहरी मार पड़ रही है।वाडिया अस्पताल की मेडिकल डायरेक्टर डॉ. शकुंतला प्रभु ने बताया कि परिवार वाले बच्ची की दिल की बीमारी से अनजान थे। अगर समय रहते दिल की बीमारी का पता नहीं चलता तो बच्ची की जान को खतरा भी हो सकता था। इस सर्जरी में ढाई लाख रुपये का खर्च आएगा।

Updated : 17 Aug 2019 5:57 AM GMT
Next Story
Share it
Top