Home > राज्यवार > बिहार > बिहार तथा बंगाल की सीमा पर स्थित महानंदा में पलटी नौका, 3 की मौत तथा 40 लापता

बिहार तथा बंगाल की सीमा पर स्थित महानंदा में पलटी नौका, 3 की मौत तथा 40 लापता

बिहार तथा बंगाल की सीमा पर स्थित महानंदा में पलटी नौका, 3 की मौत तथा 40 लापता
X

पटना, ब्यूरो | देश में इस साल मानसून ने बहुत जैम कर अपना कहर बरसाया है तथा कुछ इलाकों में अभी भी बरसा रहा है। मानसून की मार में सबसे ज्यादा उत्तर-प्रदेश तथा बिहार के लोग पीड़ित हुए हैं। यूपी-बिहार की सभी नदियाँ काफी उफान पर हैं, जिसके चलते नदियों से सफ़र करने वाले लोगों की जान वेसे ही जोखिम में रहती है। इतने बड़े जोखिम होने के बावजूद लोग अपनी हरकतों को नहीं रोक रहे हैं। आज ऐसे ही बिहार तथा बंगाल की सीमा पर 40 से भी ज्यादा लोगों से भरी नौका पलट गयी। इस दुर्घटना में 40 लोग अभी भी लापता हैं तथा 3 के शव बरामद हो चुके हैं। नौका संचालकों का लालच तथा सवारियों की जल्दबाजी के कारण देश में ऐसी घटनाएं होती रहती हैं।अक्सर नौका संचालक भी ज्यादा पैसे के लालच में ओवरलोडिंग कर देते हैं, जिस से नौका पर मौजूद सभी लोगों की जान का जोखिम बढ़ जाता है। दुर्घटना घटते ही पश्चिम बंगाल के दिनाजपुर जिले के थाने में खबर कर दी गयी थी। पुलिस के पहुँचने से पहले स्थानीय लोगों तीन शव बरामद कर लिए थे, लेकिन 40 लोग अभी भी गायब बताये जा रहे हैं। दरअसल दिनाजपुर में हार साल एक नौका रेस का आयोजन किया जाता है। ये रेस एक मेले की तरह आयोजित होती है और कई सार लोगों की भीड़ भी जमा होती है। रेस देखने के बाद लोग घर को लौट रहे थे। जल्दी घर जाने के चक्कर में लोग चढ़ते गये और नौका में ओवरलोडिंग हो गयी, नौका संचालक ने भी ज्यादा पैसा आने के लालच में अपना मुंह बंद रखा। इसका अंजाम उन सभी सवारियों तथा खुद नाव संचालक को भुगतना पड़ा। दुर्घटना स्थल पर गोताखोर पहुँच चुके हैं लेकिन अभी तक केवल तीन शव प्राप्त हुए हैं, जो कि स्थानीय लोगों ने ढूँढ़ निकाले हैं। बाकी 40 लोगों का अभी तक कोई पता नहीं है।

Updated : 4 Oct 2019 12:21 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top