Top
Home > राष्ट्रीय > लोगों में समा गया है फिर से लॉकडाउन का डर

लोगों में समा गया है फिर से लॉकडाउन का डर

नोएडा, गाजियाबाद में कोरोना कर्फ्यू के एलान के बाद बाहर से आए मजदूरों को लॉकडाउन का डर सताने लगा है।

लोगों में समा गया है फिर से लॉकडाउन का डर
X

एजेंसी

नई दिल्ली : देश में एक बार फिर कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ गया है। कयास लगाए जा रहे हैं कि राज्य सरकारों की तरफ से कभी भी लॉकडाउन को लेकर बड़ा फैसला आ सकता है। दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद में कोरोना कर्फ्यू के एलान के बाद बाहर से आए मजदूरों को लॉकडाउन का डर सताने लगा है। ऐसे में देश के दिल्ली, पुणे और मुंबई जैसे प्रमुख शहरों में रहने वाले प्रवासी मजदूरों ने घर वापसी की तैयारी शुरू कर दी है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स बताती हैं कि इन शहरों में मौजूद रेलवे स्टेशन और बस अड्डों पर बड़ी संख्या में मजदूर पहुंच रहे हैं।

दिल्ली में अभी सिर्फ रात के कर्फ्यू का एलान किया गया है, लेकिन मजदूरों को आशंका है कि जल्द ही लॉकडाउन लग सकता है। एक तरफ दिल्ली में कोरोना के केस बढ़ रहे हैं, तो दूसरी तरफ यहां से दूसरे राज्यों में जाने वाली ट्रेनों में भारी लापरवाही दिख रही है। बसों और ट्रेनों में जुटी इस भीड़ से साफ है कि लोगों को लॉकडाउन का डर तो है, लेकिन कोरोना वायरस के खतरे को वो अब भी नजरअंदाज कर रहे हैं , जबकि थोड़ी सी सावधानी के साथ वो आने वाले खतरे को टाल सकते हैं।

राजधानी दिल्ली में कोरोना के चलते नाइट कर्फ्यू है, पिछली बार लॉकडाउन लगा था तो हजारों लाखों मजदूरों ने पलायन किया था लेकिन इस बार फिर से हालात के खराब होने और नाइट कर्फ्यू लगने के बाद इन्हीं मजदूरों में फिर से डर समाया हुआ है। कुछ मजदूरों का कहना था कि उनके घर से फोन आ रहा है कि कहीं फिर से लॉकडाउन ना हो जाए । इसलिए पहले ही घर आ जाओ। वहीं खेती करेंगे 3-4 महीना, तो वहीं कुछ मजदूरों ने यह भी कहा कि उन्हें काम भी है और साथ ही जो कर्फ्यू लगा तो यही फैसला किया कि वापस अपने गांव चले जाते हैं।

Updated : 9 April 2021 6:46 AM GMT
Tags:    

Shivani

Magazine | Portal | Channel


Next Story
Share it
Top