Top
Home > राज्यवार > दिल्ली > पंडित मदन मोहन मालवीय के जन्मदिवस पर विचार गोष्ठी का आयोजन

पंडित मदन मोहन मालवीय के जन्मदिवस पर विचार गोष्ठी का आयोजन

पंडित मदन मोहन मालवीय के जन्मदिवस पर विचार गोष्ठी का आयोजन
X

आयोजन ¦ संतोष कुमारनई दिल्ली । भारत की सनातन संस्कृति के प्रवाह को निरन्तर बनाए रखने हेतु हर कालखण्ड में कोई न कोई महापुरुष अपनी असीम शक्तियों के साथ प्रकट होता रहा है। पण्डित मदनमोहन मालवीय जी भी उसी महामानव श्रंखला मे से थे। 25 दिसंबर 1861 को जन्में एवं अभावों के बीच पले पंडित मदनमोहन मालवीय जी ने अल्प जीवनकाल में इतने असाधारण कार्य किए कि जीते जी महामना कहलाने लगे थे। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, समाज सुधारक, कवि, शिक्षक, पत्रकार एवं वकील के रूप में उन्होंने ऐसी अमिट छाप छोड़ी, कि हर कोई आज भी उनसे प्रेरणा ले रहा है।सुबह की बड़ी खबरमहामना पण्डित मदनमोहन मालवीय के जन्मदिवस के अवसर पर कांस्टीट्यूशन क्लब में विचार गोष्ठी और ‘राष्ट्र-समाज-सम्मान’ का आयोजन हुआ। विश्व जागृति मिशन के संस्थापक सुधांशु जी महाराज एवं बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के कुलाधिपति न्यायमूर्ति गिरधर मालवीय के सान्निध्य में आयोजित हुआ। नेशनल अलायंस इंडो-कनाडियन के चेयरमैन आजाद कौशिक की अध्यक्षता में आयोजित समारोह का स्वागताध्यक्ष लोहिया ग्रुप के चेयरमैन विनीत कुमार गुप्ता ने किया।अखिलेश अपनी जिम्मेदरी ठीक से नहीं निभा रहे : मुलायमPramod-Tiwariसमारोह के दौरान समाजसेवा, भाषा एवं साहित्य, शिक्षा, धर्म, कला-संस्कृति, पत्रकारिता, वकालत, उद्योग-व्यापार, राजनीति, प्रशासन एवं पर्यावरण आदि क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाली शख्सियतों को सम्मानित किया गया। ग्रामीण विद्युतीकरण निगम लिमिटेड, लोहिया ग्रुप, बीकानेर वाला, पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड, कॉन्टिनेंटल मिल्कोज ग्रुप (मिल्कोज), सकरनी प्लास्टर, श्रीराम कंट्रक्शन एवं बीटीडब्ल्यू का विशेष सहयोग रहा। इनके अलावा संजय विनायक जोशी, पूर्व राष्ट्रीय संगठन महामंत्री, भाजपा, समाजसेवी गोपाल बिंदल, आचार्य कृष्णमोहन पाण्डेय त्रिवेणी नाथ तिवारी, श्याम किशोर तिवारी, ब्रजेश दुबे, के.एल. शर्मा, राजनाथ त्रिपाठी, दिलबाग खंडूजा, राजेंद्र मलिक एवं विजय प्रेमी आदि का भी सहयोग रहा।

Updated : 2 Jan 2019 7:59 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top