Home > शख्सियत > बर्थ एनिवर्सरी स्पेशल : अपनी सादगी के लिए जानी जाने वाली नूतन ने कभी मारा था संजीव कुमार को थप्पड़

बर्थ एनिवर्सरी स्पेशल : अपनी सादगी के लिए जानी जाने वाली नूतन ने कभी मारा था संजीव कुमार को थप्पड़

नूतन के पिता कुमारसेन समर्थ एक फिल्ममेकर थे और मां शोभना समर्थ उस दौर की जानी-मानी अभिनेत्री थीं। 14 साल की उम्र में नूतन ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की। उनकी पहली फिल्म 1950 में ‘हमारी बेटी’ थी जिसे उनकी मां ने निर्देशित किया था।

बर्थ एनिवर्सरी स्पेशल : अपनी सादगी के लिए जानी जाने वाली नूतन ने कभी मारा था संजीव कुमार को थप्पड़
X

बर्थ एनिवर्सरी स्पेशल

उदय सर्वोदय

फिल्मी खानदान से ताल्लुक रखने वालीं अभिनेत्री नूतन हिंदी सिनेमा जगत की बेहतरीन अदाकाराओं में से हैं। करीब चार दशक के अपने लंबे करियर में नूतन ने 70 से ज्यादा फिल्में की हैं। अपनी सादगी, खूबसूरती और बेहतरीन एक्टिंग से फैंस को दीवाना करने वालीं दिवगंत एक्ट्रेस नूतन का जन्म चार जून 1936 को हुआ था। हालांकि एक्ट्रेस ने सभी को 21 फरवरी 1991 को अलविदा कह दिया था। आज उनकी बर्थ एनिवर्सरी है|

वर्सेटाइल एक्ट्रेस नूतन

नूतन के पिता कुमारसेन समर्थ एक फिल्ममेकर थे और मां शोभना समर्थ उस दौर की जानी-मानी अभिनेत्री थीं। 14 साल की उम्र में नूतन ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की। उनकी पहली फिल्म 1950 में 'हमारी बेटी' थी जिसे उनकी मां ने निर्देशित किया था।

माँ से 20 साल रही बोलचाल बंद

1952 में नूतन ने मिस इंडिया का ताज जीता। उस वक्त उनकी उम्र 16 साल थी। उनकी मां शोभना ने एक इंटरव्यू में कहा था कि 'सभी बोलते थे वो बहुत पतली है तभी मैंने सोचा कि उसे ग्रूमिंग की जरूरत है और मैंने उसे मसूरी भेज दिया। जहां उसने एक ब्यूटी कॉन्टेंस्ट में लिया। सभी लोग तब हैरान रह गए जब वो मिस मसूरी चुनी गई थी।'

नूतन अपनी माँ के साथ

आगे चलकर नूतन और उनकी मां के बीच रिश्ते खराब हो गए थे। उन्होंने अपनी मां पर पैसों के हेर-फेर का आरोप लगाया था। करीब 20 साल तक दोनों के बीच बातचीत बंद रही।

कम उम्र में ही किया बेहतरीन फिल्मों में काम

उन्हें फिल्म 'सीमा' से बड़ा ब्रेक मिला। इस फिल्म के लिए उन्हें फिल्मफेयर बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड मिला। इसके बाद नूतन ने 'पेइंग गेस्ट', 'अनाड़ी', 'सुजाता', 'छलिया', 'बंदिनी', 'सरस्वतीचंद्र', 'देवी', 'मैं तुलसी तेरे आंगन की' सहित अन्य फिल्में कीं।

बेहद सादगी से भरी खूबसूरत अभिनेत्री थी नूतन

नूतन को बेस्ट अभिनेत्री के लिए पांच फिल्मफेयर अवॉर्ड्स मिले। फिल्मों में योगदान को देखते हुए 1974 में उन्हें पद्मश्री से नवाजा गया।

फिल्मी परिवार

जानी-मानी अभिनेत्री तनुजा, नूतन की बहन हैं। नूतन, काजोल की मौसी थीं। एक इंटरव्यू में तनुजा ने कहा था, 'सच कहूं तो मैंने एक्टिंग को कभी गंभीरता से नहीं लिया जिस तरह से नूतन ने लिया। शुरुआत में यह मुझे उतना प्रभावित नहीं करता था। वह मुझसे कहीं आगे एक गंभीर और वर्सटाइल अभिनेत्री थीं।'

फिल्म के सेट पर संजीव कुमार को जड़ा था थप्पड़

अपने शानदार करियर में उन्होंने कई सारी सफल फिल्मों में काम किया और काफी अवॉर्ड भी जीते । फिल्मों में आने से पहले नूतन ने अपनी आरंभिक पढ़ाई एस टी जॉसेफ स्कूल पंचागनी से की , जिसके बाद वो आगे की पढ़ाई के लिए वि‍देश चली गईं। नूतन ने 1950 की फिल्म हमारी बेटी से अपने करियर की शुरुआत की। इस फिल्म का निर्माण उनकी मां ने ही किया था।

नूतन संजीव कुमार के साथ

नूतन और एक्टर संजीव कुमार से जुड़े किस्से की बात करें तो 1969 में फिल्म 'देवी' की शूटिंग के दौरान एक्ट्रेस ने एक्टर संजीव कुमार को थप्पड़ मारा था। शादीशुदा और एक बेटे की मां बन चुकीं नूतन को सेट पर पड़ी एक मैगजीन से अपने और संजीव कुमार के अफेयर की बात पता चली तो वो गुस्सा हुईं लेकिन जब उन्हें ये पता चला कि ये बात संजीव कुमार ने खुद फैलाई है तो नूतन ने भरे सेट में संजीव को एक जोरदार थप्पड़ जड़ दिया था।

निजी जिदंगी

नूतन अपनी सादगी के लिए जानी जाती थीं इसके साथ ही वो अपनी जिंदगी को बहुत निजी रखती थीं। मजह 9 साल में ही नूतन की गिनती बॉलीवुड की टॉप अभिनेत्रियों में होने लगी थी। इसके बाद उन्होंने नेवी के लेफ्टिनेंट कमांडर रजनीश बहल से शादी कर ली।

नूतन अपने पति रजनीश बहल और बेटे मोहनीश बहल के साथ

उनके एक बेटे मोहनीश बहल हुए जो कि फिल्मों और टेलीविजन के मशहूर अभिनेता हैं। मोहनीश की बेटी प्रनूतन बहल भी फिल्मों में एंट्री कर चुकी हैं।

नूतन ब्रेस्ट कैंसर का शिकार हो गई थीं और महज 54 साल की उम्र में साल 1991 में उन्होंने अंतिम सांस ली।

Updated : 4 Jun 2021 7:15 AM GMT

Shivani

Magazine | Portal | Channel


Next Story
Share it
Top