Home > शख्सियत > फेरबदल: दत्तात्रेय होसबोले ने ली भैय्याजी जोशी की जगह, बने संघ के नए सरकार्यवाह

फेरबदल: दत्तात्रेय होसबोले ने ली भैय्याजी जोशी की जगह, बने संघ के नए सरकार्यवाह

चुनाव अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा (एबीपीएस) की दो दिवसीय वार्षिक बैठक में हुआ जो संघ की सर्वोच्च नीति निर्णायक इकाई है।

फेरबदल: दत्तात्रेय होसबोले ने ली भैय्याजी जोशी की जगह, बने संघ के नए सरकार्यवाह
X

उदय सर्वोदय

बेंगलुरु: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की निर्णय लेने वाली सर्वोच्च इकाई अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक में दत्ता्त्रेय होसबोले को राष्ट्रीय स्वरयंसेवक संघ का सरकार्यवाह चुना गया है। दत्तात्रेय होसबोले, भैय्याजी जोशी की जगह लेंगे। 73 वर्षीय जोशी तीन-तीन वर्षों के लिए चार बार सरकार्यवाह रहे वहीं होसबोले 2009 से संघ के सह सरकार्यवाह थे।

चुनाव अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा (एबीपीएस) की दो दिवसीय वार्षिक बैठक में हुआ जो संघ की सर्वोच्च नीति निर्णायक इकाई है। यह बैठक बेंगलुरु में शुक्रवार को शुरू हुई।

बता दें कि RSS में सरकार्यवाह ही वह व्यक्ति होता है, जो संघ से जुड़े व्यवहारिक और सैद्धांतिक विषयों पर निर्णय लेता है। उसकी अपनी एक टीम होती है, जिसे केंद्रीय कार्यकारिणी कहा जाता है।

इस बाबत आरएसएस ने ट्वीट किया, 'बेंगलुरु: आरएसएस की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा (एबीपीएस) ने श्री दत्तात्रेय होसबोले को सरकार्यवाह चुन लिया। वह 2009 से ही आरएसएस के सह- सरकार्यवाह थे।'

आरएएसस के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख अरुण कुमार ने कहा कि भैय्याजी जोशी ने इच्छा प्रकट की थी कि वह 12 सालों से इस दायित्वक को संभाल रहे हैं और अब ये जिम्मेछदारी किसी युवा को दी जानी चाहिए। दत्ताात्रेय होसबोले को तीन वर्षों के लिए सर्वसम्मयति से चुना गया है और अब वह संघ में नंबर दो के ओहदे पर पहुंच गए हैं।

66 वर्षीय होसबोले कर्नाटक के शिवमोगा जिले से आते हैं। वह साल 1968 में राष्ट्री य स्वकयंसेवक संघ से जुड़े थे। आपातकाल के समय दत्ताशत्रेय होसबोले ने गिरफ्तारी भी दी। असम में यूथ डेवलपमेंट सेंटर को विकसित करने में उन्हों ने महत्वमपूर्ण भूमिका निभाई है। दत्तानत्रेय होसबोले अंग्रेजी साहित्य में परास्नातक हैं। शुरू में वह अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (एबीवीपी) के साथ जुड़े जो आरएसएस की छात्र शाखा है।

Updated : 20 March 2021 10:49 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top