Home > राज्यवार > दिल्ली > पीएम के नाम की वेबसाइट से 12वीं पास युवक ने सैकड़ों को ठगा

पीएम के नाम की वेबसाइट से 12वीं पास युवक ने सैकड़ों को ठगा

पीएम के नाम की वेबसाइट से 12वीं पास युवक ने सैकड़ों को ठगा
X

प्रधानमंत्री के नाम पर वेबसाइट बनाकर लोगों से ठगी के मामले का दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने खुलासा़ किया है कि आरोपी ने बेरोजगारों को शिक्षक पद के लिए फार्म भराने के नाम पर रुपये वसूले थे। इस मामले में प्रसन्नजीत चटर्जी नाम के युवका को बंगाल से गिरफ्तार किया गया है। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने जानकारी दी कि हरिसेवक शर्मा ने साइबर सेल के पास केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी और इलेक्ट्रॉनिक मंत्रालय की ओर से 7 जनवरी को शिकायत की थी। इस शिकायत के आधार पर कार्रवाई करते हुए आईटी एक्ट एवं धोखाधड़ी की धारा में सेल ने एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू की।Related imageजांच में पुलिस ने पहले आरोपी की वेबसाइट को ब्लॉक किया उसके बाद वेबसाइट के आईपी एड्रेस से आरोपी तक पहुंचने की कोशिश की और इस एड्रेस के जरिए प्रसन्नजीत के ऑफिस तक पहुंची। पुलिस टीम ने प्रसन्नजीत को बंगाल के 24 परगना जिले से गिरफ्तार कर लिया।बता दें कि प्रसन्नजीत ने 12वीं तक पढ़ाई के बाद कम्प्यूटर डिप्लोमा कोर्स किया था, उसके पिता सीआईडी में अवकाश प्राप्त एएसआई रहे हैं। कम्प्यूटर कोर्स करने के बाद प्रसन्नजीत ने कम्प्यूटर सेवा केंद्र खोला उसके केंद्र पर लोगों के ऑनलाइन आवेदन और अन्य काम किए जाते थे।प्रसन्नजीत ने बताया कि इसी दौरान उसे ऑनलाइन तरीके से ठगी का उपाय सूझा। उसने www-pmgdisha-in नाम की केंद्रीय मंत्रालय की वेबसाइट देखी जहां उसने डिजिटल साक्षरता के बारे में पढ़ा। प्रसन्नजीत ने इसी नाम से मिलती-जुलती वेबसाइट बना कर उसे हर व्हाट्स ग्रुपों में भेजा और अफवाह फैलाई कि डिजिटल साक्षरता के लिए केंद्र सरकार शिक्षक भर्ती अभियान चला रही है। लोगों ने फॉर्म भरने के नाम पर वेबसाइट पर लॉगइन करके फार्म भरने के साथ आवेदन शुल्क के पांच सौ से हजार रुपये जमा किए।पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस जांच में सौ से ज्यादा लोगों से ठगी सामने आई है। आरोपी एक साल से ज्यादा समय से यह काम कर रहा था इसलिए यह संख्या हजारों में जा सकती है। पुलिस वेबसाइट से जुड़े आंकड़ों को भी देख रही है। पुलिस टीम आरोपी की ट्रांजिट रिमांड लेकर दिल्ली पहुंच गई है।

Updated : 25 July 2019 6:25 AM GMT
Next Story
Share it
Top