Top
Home > खेल > पृथ्वी शॉ - 8महीने का बैन लगने,विवादों परेशान होकर तबियत खराब होने से दूर निकल गए

पृथ्वी शॉ - 8महीने का बैन लगने,विवादों परेशान होकर तबियत खराब होने से दूर निकल गए

पृथ्वी शॉ - 8महीने का बैन लगने,विवादों परेशान होकर तबियत खराब होने से दूर निकल गए
X

नई दिल्ली,ब्यूरो। युवा टेस्ट बल्लेबाज पृथ्वी शॉ पर कुछ दिन पहले ही बीसीसीआइ ने आठ महीने का बैन लगाया था। उनके बैन को लेकर विवाद खडे हो गए थे। इन विवादों और बैन की वजह से क्रिकेट के मैदान से दूर हो चुके पृथ्वी शॉ डिप्रेशन में चले गए। सूत्रों के अनुसार युवा पृथ्वी अपनी गलती मान कर बैन से जुड़ी खबरों से दूर रहने के लिए भारत छोड़कर इंग्लैंड चले गए और बैन खत्म होने तक वहीं रहेंगे, उनका बैन 15 नवंबर को खत्म हो रहा है।बता दें कि इस साल 22 फरवरी को इंदौर में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के समय पृथ्वी शॉ के यूरीन का सैंपल लिया गया था। उनके यूरीन में प्रतिबंधित पदार्थ पाया गया था। यह टेस्ट बीसीसीआइ ने अपने एंटी डोपिंग प्रोग्राम में कराया था और उनका टेस्ट पॉजिटीव होने की वजह से बोर्ड ने आठ महीने का बैन लगा दिया था जो मार्च से ही शुरू माना गया था।बोर्ड द्वारा बैन लगाए जाने के बाद पृथ्वी शॉ ने अपनी गलती मान ली थी और ट्वीट करते हुए लिखा था कि मुझ पर 15 नवंबर तक का बैन लगाया गया है। ये एक कफ सिरप में मौजूद प्रतिबंधित पदार्थ की वजह से हुआ जो मैंने अनजाने में ले लिया था। फरवरी में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के दौरान मुझे जुखाम हो गया था और ऑस्ट्रेलिया दौरे में भी पैर की चोट से जूझ रहा था। मुझे मैदान पर जल्दी लौटना था और इसी की वजह से मैंने सावधान रहने के लिए प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया। मैं अपनी गलती स्वीकार करता हूं, मैं अब भी अपनी चोटों से लड़ रहा हूं जो पिछले टूर्नामेंट में लगी थी। मैं इन खबरों के कारण काफी सदमे में हूं।

Updated : 11 Aug 2019 1:31 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top