Home > राज्यवार > दिल्ली > परिवहन मंत्री ने किया यातायात के नियमों को बदलने की वजह का खुलासा

परिवहन मंत्री ने किया यातायात के नियमों को बदलने की वजह का खुलासा

परिवहन मंत्री ने किया यातायात के नियमों को बदलने की वजह का खुलासा
X

नई दिल्ली, एजेंसी। यातायात नियम उल्लंघन मामले में लगाए गए भारी जुर्माना लगाए जाने वजह का हुआ खुलासा। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि सरकार की ऐसी कोई इच्छा नहीं थी कि जुर्माने की सीमा को बढ़ाया जाए। इसके पीछे इरादा ये था कि ऐसा समय आए कि किसी को दंडित ना किया जाए और सभी लोग नियमों का पालन करें। गडकरी ने आगे कहा कि पैसे से ज्यादा लोगों की जान की ज्यादा कीमत है। गडकरी ने बताया कि इस नये कानून को 20 राज्यों के परिवहन मंत्रियों की समिति की सिफारिशों के आधार पर ही इसे तैयार किया गया और लागू किया गया। साथ ही उनका कहना है कि देश मे 5 लाख सड़क दुर्घटनाएं होती है जिसमें से डेढ़ लाख मामलों में मौतें हो जाती हैं।हर साल सड़क हादसों में 18 से 35 आयु के 60 फीसदी लोग इस दौरान अपनी जान गंवा देते है। क्या इनकी जान चालान की राशी से कम है। उनका कहना है की सभी को अपनी जिन्दगी की कीमत देखनी चाहिए यदि इन्सान ही नहीं बचेगा तो उस कमाए हुए पैसे क्या क्या करोगे केंद्र सरकार ने राज्यों को छूट दे रखी है कि वह संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट को लागू करने करने या न करने अथवा इसमें जुर्माने के प्रावधानों पर फैसला ले सकते हैं। एक सितंबर से पूरे देश में ये नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू हो गया है। लेकिन, मध्यप्रदेश, राजस्थान, गुजरात, पंजाब और पश्चिम बंगाल ने इसे अपने राज्य में इस नियम को लागू करने से साफ इनकार कर दिया है।

Updated : 5 Sep 2019 11:35 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top