Home > राज्यवार > महाराष्ट्र में दो दिन में होगा लॉकडाउन का फैसला

महाराष्ट्र में दो दिन में होगा लॉकडाउन का फैसला

महाराष्ट्र में कोरोना की रफ्तार देखते हुए अगले दो दिन में लॉकडाउन को लेकर फैसला किया जाएगा। पुणे में आज से अगले 7 दिनों के लिए 12 घंटे का कर्फ्यू शुरू हो रहा है।

महाराष्ट्र में दो दिन में होगा लॉकडाउन का फैसला
X

एजेंसी

मुंबई : महाराष्ट्र में कोरोना की दूसरी लहर फिर से लॉकडाउन की ओर बढ़ रही है और सीएम उद्धव ठाकरे ने अगले दो दिन में इस पर फैसला लेने की बात कही है। महामारी के चलते मुंबई में करीब 600 इमारतें अब तक सील की जा चुकी हैं। पुणे में आज से शाम 6 से सुबह 6 बजे तक 12 घंटे का कर्फ्यू लगाया जाएगा। इस दौरान ट्रैवल, रेस्तरां में डाइन इन, बार और वीकली मार्केट पर प्रतिबंध रहेगा। धार्मिक स्थल और सिनेमा घर भी अगले 7 दिनों बंद रहेंगे।

पुणे में कोरोना के मामलों में तेजी देखते हुए आज से 12 घंटे का कर्फ्यू लगाया जा रहा है। पुणे में शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक बार, रेस्तरां और होटल अगले 7 दिन के लिए बंद रहेंगे, सिर्फ डिलिवरी सेवा जारी रहेगी। आज से पुणे के होटल में टेक-अवे और होम डिलिवरी सर्विस शुरू हो गई है।

डाइन इन की अनुमति नहीं होगी। एक ग्राहक का कहना है कि सरकार सही कर रही है। इससे कोरोना के बढ़ रहे मामलों में नियंत्रण होगा। शहर के सभी धार्मिक स्थलों को 9 अप्रैल तक बंद रखा गया है। इस दौरान श्रीमंत दग्दुशेठ हलवई गणपति मंदिर में लोगों ने बाहर से हाथ जोड़कर प्रार्थना की।

पुणे में चलने वाली बस सेवा को भी 7 दिनों तक बंद रखने का फैसला किया गया है। इस दौरान सभी राजनीतिक और सामाजिक कार्यक्रम भी बंद रहेंगे। पहले से तय शादी समारोह में सिर्फ 50 लोग ही शामिल हो सकते हैं जबकि अंतिम संस्कार में 20 लोगों की अनुमति होगी।

दोपहर के दौरान धारा 144 शहर में एक हफ्ते तक लागू रहेगी। 7 दिन बाद हालात का जायजा लेकर आगे फैसला लिया जाएगा। इस दौरान नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कठोर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। 30 अप्रैल तक सभी स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे।

मुंबई में लग्जरी अपार्टमेंट से आ रहे केस

साउथ मुंबई की कई गगनचुंबी इमारतों को गाइडलाइन का उल्लंघन करने के कारण लॉक कर दिया। टोनी कफ परेड स्थित लग्जरी अपार्टमेंट जॉली मेकर-1 के 25 मंजिला ए विंग और मेकर टॉवर 2 को शुक्रवार को सील कर दिया गया। इससे पहले नेपेयन सी रोड स्थित एंबेसी अपार्टमेंट में 23 कोरोना केस मिलने के बाद मंगलवार को इसे भी सील कर दिया गया। बीएमसी अधिकारी का कहना कि वह पूरी विंग को सील करके कोविड प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं।

मुंबई में अब तक 600 इमारतें सील हो चुकी हैं। यानी इन इमारतों से कोई बाहर नहीं जा सकता और न ही अंदर जा सकता है। सिर्फ विशेष स्थिति में ही अनुमति मिलेगी। सारे जरूरी सामान की डिलिवरी गेट पर होगी। इमारतों को 14 दिन के लिए सील किया गया है।

2 दिन में होगा लॉकडाउन का फैसला

उधर महाराष्ट्र में बढ़ते कोरोना मरीजों को देखते हुए अगले 2 दिन में लॉकडाउन लगाने का फैसला किया जा सकता है। सीएम उद्धव ठाकरे ने इसे लेकर चेतावनी दी। उन्होंने शुक्रवार रात को राज्य को संबोधित करते हुए कहा, 'कोरोना संक्रमण पहले से ज्यादा बढ़ गया है और लॉकडाउन की संभावनाएं खत्म नहीं हुई हैं।' उद्धव ने कहा, 'हम लगातार विशेषज्ञों से विचार-विमर्श कर रहे हैं। अगले 2 दिन में राजनीतिक पार्टियों और अन्य महत्वपूर्ण लोगों से इस पर चर्चा कर फैसला लेंगे।'

उद्धव ठाकरे की अपील

जब तक बहुत जरूरी न हो, घर से बाहर न निकलें।

बिना मतलब यहां-वहां न घूमें

भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें

मास्क जरूर लगाएं

दूसरों से दूरी बनाए रखें

महाराष्ट्र में 47,827 रेकॉर्ड मरीज मिले

शुक्रवार को मुंबई में 8832 और राज्य में 47,827 रेकॉर्ड नए मरीज मिले। मुंबई में 20 और महाराष्ट्र में 202 मरीजों की मौत हो गई। मुंबई में दादर और माहिम नए हॉटस्पॉट बन गए हैं। हालांकि कोविड डेथ ऑडिट कमिटी के अध्यक्ष डॉ. अविनाश सुपे ने बताया कि बढ़ते मरीजों के साथ मौत की संख्या भी बढ़ेगी, लेकिन मृत्यु दर नहीं बढ़ेगी।

'दूसरी लहर के लिए युवा जिम्मेदार'

बीएमसी का मानना है कि कोरोना की दूसरी लहर के लिए काफी हद तक युवाओं की लापरवाही जिम्मेदार है। कुल कोरोना केसों में 30 से 39 वर्ष के बीच के युवा 18 फीसदी और 59 वर्ष से कम उम्र वाले 73 फीसदी हैं। मुंबई में अब तक के कुल 4,23,360 कोरोना मरीजों में से 75,872 मरीज 30 से 39 वर्ष की उम्र के मिले हैं। इनमें से 64 फीसदी पुरुष और 36 फीसदी महिलाएं शामिल हैं।

Updated : 3 April 2021 7:35 AM GMT
Tags:    

Shivani

Magazine | Portal | Channel


Next Story
Share it
Top