Top
Home > राज्यवार > पश्चिम बंगाल > पुलिस कस्टडी में हुई अपराधी की संदिग्ध मौत, पता लगते ही लोगों ने लगाईं आग

पुलिस कस्टडी में हुई अपराधी की संदिग्ध मौत, पता लगते ही लोगों ने लगाईं आग

पुलिस कस्टडी में हुई अपराधी की संदिग्ध मौत, पता लगते ही लोगों ने लगाईं आग
X

पश्चिम बंगाल, ब्यूरो | पश्चिम बंगाल के मालदा पुलिस स्टेशन में हुआ बड़ा हादसा। एक आरोपी की कस्टडी में हुई संदिग्ध मौत। खबर सुनकर गुस्साए लोगों ने पहले तो पुलिस की गाड़ियों पर पथराव किया और बाद में थाने में ही आग लगा डाली। मामला मालदा के मिल्की थाने से सामने आया है। दरअसल पुलिस की कस्टडी में आरोपी अनाउल खान की अचानक मौत हो गयी। इस खबर को सुनकर वहां पहुंची भीड़ हिंसक हो गयी। लोगों का आरोप है कि मृतक की मौत पुलिस द्वारा बेरहम मार पिटाई के कारण हुई है। आरोपी की हालत पिटाई के बाद गंभीर हो गयी थी जिस कारण उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया, अस्पताल में डॉक्टर्स ने कहा कि He is no more, इतना सुनते ही वहाँ पहुंची भीड़ ने हिंसक रूप ले लिया। उनका कहना है कि पुलिस ने पहली अआरोपी को सड़क पर मारा और उसके बाद पुलिस स्टेशन में भी उसके साथ खूब मार पिटाई का खेल खेला। जिसका अंजाम उसकी मौत निकला।मृतक की मौत की खबर सुनते ही लोगों ने पुलिस का घेराव करना शुरू कर दिया। उसके बाद पुलिस की गाड़ियों पर पथराव करना शुरू कर दिया। इसके कुछ ही देर बाद गुस्साए लोगो ने पुलिस स्टेशन को ही आग के हवाले कर दिया। मामले पर पुलिस की तरफ से एस पी आरोक राजारिया ने भीड़ के आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि आरोपी को जुआ खेलते हुए गिरफ्तार किया गया था। आरोपी की मौत कार्डियक अरेस्ट से हुई है। इसके बाद घटनास्थल पर रैपिड एक्शन फ़ोर्स को तैनात कर दिया गया है। साथ ही पुलिस के बड़े अधिकारी भी मामले की जांच में जुट गये हैं।

Updated : 14 Oct 2019 6:32 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top