Top
Home > खेल > मिताली की कप्तानी में टीम इंडिया का ‘राज’, 24 साल बाद दोहराया इतिहास

मिताली की कप्तानी में टीम इंडिया का ‘राज’, 24 साल बाद दोहराया इतिहास

मिताली की कप्तानी में टीम इंडिया का ‘राज’, 24 साल बाद दोहराया इतिहास
X

नई दिल्ली (स्पोर्ट्स डेस्क): महिला क्रिकेट टीम ने न्यूजीलैंड दौरे पर शानदार प्रदर्शन करते हुए लगातार दूसरा मैच जीत लिया है. इसी के साथ उसने न्यूजीलैंड में 24 साल बाद वन-डे सीरीज जीतने का इतिहास दोहराया. इससे पहले उसने 1995 में न्यूजीलैंड को 1-0 से हरा कर सीरीज जीती थी.बता दें कि मिताली राज की कप्तानी में महिला क्रिकेट टीम ने मंगलवार को दूसरे वन-डे में मेजबान न्यूजीलैंड को आठ विकेट से हरा दिया. भारतीय टीम ने पहले न्यूजीलैंड को 161 रन पर समेटा. फिर महज 35.2 ओवर में दो विकेट पर 161 रन बनाकर मैच जीत लिया. भारत की ओर से स्मृति मंधाना ने 90 रन की शानदार पारी खेली. उन्होंने पहले वन-डे मैच में भी शतक जमाया था. मंधाना के अलावा कप्तान मिताली राज (63) ने भी अर्धशतक बनाया. गेंदबाजों में सबसे बेहतरीन प्रदर्शन झूलन गोस्वामी का रहा, जिन्होंने तीन विकेट झटके.बे-ओवल मैदान पर खेले गए दूसरे वन-डे मैच में इससे पहले भारतीय महिला टीम ने मेजबान न्यूजीलैंड को महज 161 रन पर समेट दिया. न्यूजीलैंड की टीम महज 44.2 ओवर ही मैदान पर टिक सकी. इसके जवाब में हालांकि भारतीय टीम की भी शुरुआत खराब रही. ओपनर जेमिमाह रोड्रिगेज बिना खाता खोले आउट हो गईं. तीसरे नंबर पर बैटिंग करने आईं दीप्ति शर्मा भी सिर्फ आठ रन बना सकीं. भारत को जब दूसरा झटका लगा, तब उसका स्कोर 15 रन था.दीप्ति शर्मा के आउट होने के बाद कप्तान मिताली राज मैदान पर उतरीं. उन्होंने शानदार फॉर्म में चल रहीं ओपनर स्मृति मंधाना का पूरा साथ दिया और 151 रन की नाबाद साझेदारी कर टीम को जीत दिला दी. स्मृति मंधाना ने 83 गेंदों की अपनी पारी में 13 चौके और एक छक्का जमाया. मिताली राज ने अपेक्षाकृत धीमी पारी खेली. उन्होंने अपने 63 रन के लिए 111 गेंदों का सामना किया और चार चौके व दो छक्के जमाए. इस जीत के साथ भारतीय टीम ने तीन वनडे मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बना ली है.इससे पहले भारतीय कप्तान मिताली राज ने मैच में टॉस जीता. उन्होंने पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया. उनकी गेंदबाजों ने इस फैसले को सही ठहराया. अनुभवी गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने पहले ही ओवर की चौथी गेंद पर सूजी बेट्स (0) को आउट किया. विकेटों का यह सिलसिला तब तक नहीं थमा, जब तक न्यूजीलैंड की पूरी टीम आउट नहीं हो गई. न्यूजीलैंड की ओर से सिर्फ उसकी कप्तान ही एमी स्टाथवेट ही भारतीय गेंदबाजों का सामना कर सकीं. उन्होंने 71 रन बनाए. एमी ने अपनी पारी में 87 गेंदों का सामना किया और नौ चौके मारे. उनके अलावा न्यूजीलैंड की कोई भी बल्लेबाज 25 रन का आंकड़ा नहीं छू सकीं.भारत के लिए झूलन गोस्वामी के अलावा दीप्ती और पूनम ने बेहतरीन गेंदबाजी की. झूलन ने दोनों ने दो-दो विकेट अपने नाम किए. शिखा पांडे को एक विकेट मिला. झूलन ने इस के साथ ही अपने विकेटों की संख्या 210 पहुंचा दी. वे दुनिया की एकमात्र महिला क्रिकेटर हैं, जिसने वनडे में 200 से अधिक विकेट लिए हैं.

Updated : 30 Jan 2019 12:05 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top