राष्ट्रपति चुनाव में ट्रंप के रूस से मिलीभगत होने के कोई सबूत नहीं : रिपोर्ट

नई दिल्ली (एजेंसी) :  अमेरिका में 2016 में हुए राष्ट्रपति चुनाव में जीत हासिल करने के लिए डोनाल्ड ट्रंप की रूस के साथ मिलीभगत होने का कोई सबूत नहीं मिला है. मामले की जांच कर रहे रॉबर्ट मुलर की रिपोर्ट में कहा गया कि इसमें राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मिलीभगत होने का कोई सबूत नहीं है. मुलर की रिपोर्ट में इस बात से भी इनकार किया गया है कि ट्रंप ने न्याय प्रक्रिया के साथ कोई छेड़छाड़ की.

अटॉर्नी जनरल बिलियम बर ने रिपोर्ट के खास बिंदुओं का जिक्र करते हुए बताया कि हालांकि रिपोर्ट यह नहीं कहती कि राष्ट्रपति ने कोई अपराध किया लेकिन वह इन्हें अपराधों से बरी भी नहीं करती. उन्होंने कहा कि रिपोर्ट आगे किसी तरह का चार्ज डोनाल्ड ट्रंप पर लगाए जाने की भी सिफारिश नहीं करती है.

अपने रिव्यू में मुलर ने कहा कि इस बात के पूरे सबूत नहीं हैं कि राष्ट्रपति ने न्याय प्रक्रिया के साथ कोई छेड़छाड़ की है. मुलर ने 22 महीने की जांच के बाद ये रिपोर्ट सौंपी है. ट्रंप के ऊपर आरोप लगा था कि 2016 में हुए राष्ट्रपति चुनाव को जीतने के लिए रूस के साथ मिलकर साज़िश की थी.

हालांकि, डेमोक्रेटिक रिप्रेजिंटेटिव और हाउस ज्युडिशियरी कमिटी के चेयरमैन जेरी नडलर ने कहा कि स्पेशल काउंसिल मुलर ने यह तय करने के लिए कि ट्रंप ने न्याय प्रक्रिया को बाधित करने की कोशिश की गई या नहीं 22 महीने का वक्त लगा दिया और इसे बताने में अटॉर्नी जनरल ने दो दिन लगा दिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *