इस लहर में भी ये 24 मुस्लिम उम्मीदवार बने सांसद

नई दिल्ली (एजेंसी) : 17वीं लोकसभा चुनावों के नतीजे मुस्लिमों के लिए खुशखबरी लेकर आए हैं. 2014 के लोकसभा चुनावों के मुकाबले इस बार ज्यादा मुस्लिम उम्मीदवार जीते हैं. असम और पश्चिम बंगाल से लेकर यूपी में मुस्लिम उम्मीदवारों ने अपनी जीत का परचम फहराया है. सबसे ज्यादा मुस्लिम उम्मीदवार यूपी में जीते हैं.

गुरुवार को आए नतीजों के बाद जो तस्वीर साफ हुई है, उसके अनुसार 17वीं लोकसभा में 24 मुस्लिम उम्मीदवार सांसद बनकर संसद में पहुंचे हैं. सांसद बनने वाले उम्मीदवारों में यूपी से 7, पश्चिम बंगाल से 4, जम्मू-कश्मीर से 3, असम, बिहार और केरल से 2-2, लक्ष्यदीप से एक, पंजाब से एक मुस्लिम उम्मीदवार सांसद बना है. हालांकि पिछले चुनावों को देखते हुए ये नंबर बेहद कम है.

1990 के लोकसभा चुनावों की बात करें तो 49 मुस्लिम चुनाव जीतकर सांसद भवन में पहुंचे थे. वहीं 2014 के लोकसभा चुनावों में सिर्फ 22 मुस्लिम उम्मीदवार ही सांसद चुनकर संसद भवन में पहुंचे थे. सबसे ज्यादा सांसद पश्चिम बंगाल से आठ मुस्लिम सांसद चुने गए थे. टीएमसी ने चार मुस्लिमों को टिकट दिया था और चारों ही चुनाव जीते थे. कांग्रेस और सीपीआई की टिकट पर दो-दो मुस्लिम जीते थे.

16वीं लोकसभा में यूपी से एक भी मुस्लिम सांसद नहीं बना था. कैराना सीट पर हुए उपचुनाव में तबस्सुम हसन जीतकर लोकसभा पहुंची थी.

असम

बदरुद्दीन अजमलअब्दुल ख़ालिक़

बिहार

चौधरी मेहबुब अली कैसर

डॉ. मोहम्मद जावेद

जम्मु-कश्मीर

हस्नैन मसूदी

मोहम्मद अकबर लोन

फारूक अब्दुल्ला

केरल

एएम आरीफ

ई टी मोहम्मद बशिर

लक्षदीप

मोहम्मद फैजल

महाराष्ट्र

इम्तियाज जलील

पंजाब

मोहम्मद सादिक

तेलंगाना

असदुद्दीन औवेसी

उत्तर प्रदेश

कुंवर दानिश अली

अफजाल अंसारी

एस टी हसन

मोहम्मद आजम खान

हाजी फजलुर्रहमान

डॉ. शफीकुर्रहमान बर्क

पश्चिम बंगाल

नुसरत जहां रूही

खलीकुर्रहमान

अबु ताहिर खान

साजदा अहमद

तमिलनाडु

ए. अनवर राजा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *