Top
Home > राज्यवार > बिहार > दर्दनाक हादसा: भागलपुर में ट्रक और बस की टक्कर में 9 मजदूरों की मौत

दर्दनाक हादसा: भागलपुर में ट्रक और बस की टक्कर में 9 मजदूरों की मौत

दर्दनाक हादसा: भागलपुर में ट्रक और बस की टक्कर में 9 मजदूरों की मौत
X

एजेंसी

पटना: देश भर में प्रवासीमजदूरों की सड़क दुर्घटनाओं में मौत का सिलसिला जारी है। ताजा मामला बिहार के भागलपुरका है। भागलपुर में मंगलवार सुबहकरीब 5:30 बजे ट्रक और बस की आमने सामने हुईटक्कर में 9 प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई और चार गंभीर रूप से घायल हो गए।

घटना नौगछिया केखरीक के एनएच 31 पर अंभू चौक के पास हुई। हादसे में मारे गए सभी प्रवासी मजदूर थे।ये साइकिल से घर लौट रहे थे और रास्ते में लिफ्ट लेकर ट्रक पर सवार हो गए थे।हादसा इतना भीषण था कि मजदूरों के शव क्षत विक्षत हो गए। किसी का गला कट गया तो किसी का माथा फट गया।

ट्रक में सवार सभी मजदूरों की मौत
ट्रक पलटते ही उसमें लोड सरिया उछला और मजदूरों के शरीर में घुस गया। सरिया से किसी का गला कट गया तो किसी का सिर फट गया। कई मजदूरों के पैर, हाथ और शरीर के अन्य अंगों को सरिया ने चीर दिया। ट्रक में सवार सभी मजदूर मारे गए। वे सरिया के नीचे दब गए थे। हादसे के बाद ट्रक का ड्राइवर और खलासी भाग गया।

मिली जानकारी के अनुसार, ये भीषण सड़क हादसा खरीक थाना क्षेत्र के अम्भोचौक के समीप एनएच-31 पर हुआ है।हादसे में घायल यात्रियों को अनुमंडलीय अस्पताल नवगछिया से प्राथमिक उपचार के बादचिकित्सकों ने मायागंज रेफर कर दिया। खबर लिखे जाने तक मृतकों की पहचान नहीं होपाई है।

बताया जा रहा हैनवगछिया जीरो माइल में चालक से गुहार लगाकर सभी साइकिल सवार प्रवासी मजदूर ट्रक परसवार हो गये थे, जो करीब चारकिलोमीटर आगे आने पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। जानकारी के अनुसार, मृतक पश्चिम चंपारण के रहने वाले हैं। वहीं बस दरभंगा से बांका जा रहा था। बस परश्रमिक एक्सप्रेस से आये हुए प्रवासी मजदूर सवार थे। स्थानीय लोगों द्वारा यहदुर्घटना बस चालक की गलती से होने की बातबताई जा रही है।

जेसीबी की मदद से दबे शव निकाले गए
हादसे की सूचना मिलने पर पुलिस ने राहत व बचाव कार्य शुरू किया। तीन जेसीबी की मदद से सरिया हटाया गया और अंदर दबे शव को निकाला गया। दूसरी ओर बस में सवार चार घायल प्रवासियों को नौगछिया अनुमंडल अस्पताल ले जाया गया। बस में सवार करीब 40 प्रवासी दरभंगा से आ रहे थे। ये लोग बंगलौर से श्रमिक स्पेशल ट्रेन में सवार होकर सोमवार रात 11 बजे दरभंगा पहुंचे थे। इन्हें बांका और भागलपुर के विभिन्न ब्लॉक के क्वारैंटाइन सेंटर में भेजा जा रहा था।

अभी तक जोजानकारी मिली है उसके अनुसार ये भीषण सड़क हादसा खरीक थाना क्षेत्र के अम्भो चौकके समीप एनएच-31 पर हुआ है।हादसे में घायल यात्रियों को अनुमंडलीय अस्पताल नवगछिया से प्राथमिक उपचार के बादचिकित्सकों ने मायागंज रेफर कर दिया। वहीं ट्रक के मलबे मे दबे सभी शवों को क्रेनकी मदद से बाहर निकाला गया। खबर लिखे जाने तक मृतकों की पहचान नहीं हो पाई है।

बीते कुछ दिनों से लगातार हो रहे हादसे
बता दें कि देशव्यापी लॉकडाउन की मार झेल रहे मजदूरों के साथ बीते कुछ दिनों से लगातार हादसे हो रहे हैं। उत्तर प्रदेश के महोबा में मंगलवार सुबह एक डीसीएम पलट गई, जिससे तीन प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई। दर्जन भर से अधिक प्रवासी गंभीर रूप से घायल हैं। उससे पहले औरैया में एक भीषण ट्रक हादसे में 26 मजदूरों की मौत हो गई थी।

उत्तर प्रदेश केमुजफ्फरनगर-सहारनपुर हाईवे पर बुधवार रात 11:45 बजे एक दर्दनाक सड़क हादसा हुआ था। इस हादसे में पंजाब से पैदल बिहार अपने गांव जारहे 6 मजदूरों को एक तेज रफ्तारबस ने रौंद दिया था। सभी मजदूरों की मौके पर मौत हो गई थी।

वहीं, महाराष्ट्र के यवतमाल में आज सुबह एक ट्रक औरबस की भिड़ंत हो गई, जिसमें चारप्रवासी मजदूरों की मौत हो गई और 15 घायल हो गए। येप्रवासी मजदूर बस में सवार थे और इन्हें लेकर जा रही बस सोलापुर से झारखंड जा रहीथी।

Updated : 19 May 2020 6:35 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top