Top
Home > राज्यवार > पश्चिम बंगाल > एक मुट्ठी चावल के जरिए बंगाल का दिल जीतने निकले नड्डा, किसान के घर लंच और रोड शो ने बढ़ाया सियासी पारा

'एक मुट्ठी चावल' के जरिए बंगाल का दिल जीतने निकले नड्डा, किसान के घर लंच और रोड शो ने बढ़ाया सियासी पारा

नड्डा का यह दौरा इसलिए बेहद अहम माना जा रहा है, क्योंकि कुछ दिनों पहले काफिले पर हमले के बाद वह पहली बार बंगाल आ रहे हैं।

एक मुट्ठी चावल के जरिए बंगाल का दिल जीतने निकले नड्डा, किसान के घर लंच और रोड शो ने बढ़ाया सियासी पारा
X

उदय सर्वोदय

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान से पहले अलग ही राजनीतिक गर्माहट देखने को मिल रही है। राज्य में इसी साल विधानसभा के चुनाव होने हैं। बीजेपी ने सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस की सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रखा है। शनिवार को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के दौरे से बंगाल का सियासी पारा और चढ़ गया। नड्डा का यह दौरा इसलिए बेहद अहम माना जा रहा है, क्योंकि कुछ दिनों पहले काफिले पर हमले के बाद वह पहली बार बंगाल आ रहे हैं।

नड्डा ने शनिवार को पश्चिम बंगाल के पूर्वी बर्धमान जिले से पार्टी के 'एक मुट्ठी चावल संग्रह' अभियान की शुरुआत की। इसके बाद उन्होने पश्चिम बंगाल बीजेपी प्रमुख दिलीप घोष और दूसरे बीजेपी नेताओं के साथ जगदानंदपुर गांव में एक किसान के घर पर खाना खाया।

बीजेपी के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी के अनुसार, जेपी नड्डा का एक दिन के दौरे पर बर्धमान पहुंचने का कार्यक्रम है। इस दौरान वह रोड शो करेंगे और पार्टी की कोर कमिटी की बैठक को संबोधित भी करेंगे। साथ ही वह राज्य भर में भाजपा की ओर से विधानसभा चुनाव से पहले आयोजित की जाने वाली 40,000 सभाओं की शुरुआत करेंगे।

श्री राधा गोविंद मंदिर में की पूजा-अर्चना

बर्धमान पहुंचने के बाद नड्डा ने सबसे पहले पूर्वी बर्धमान के कटवा के पास प्रसिद्ध श्री राधा गोविंद मंदिर में पूजा-अर्चना की। उसके बाद जिले के ही जगदानंदपुर गांव में एक किसान के घर पर खाना खाया। इस दौरान उन्होने 'कृषक सुरक्षा' ग्राम सभा को संबोधित भी किया।

ममता का जाना निश्चित है और भाजपा का आना तय: नड्डा

अपने सम्बोधन में नड्डा ने कहा, 'आपने जिस गर्मजोशी से मेरा स्वागत किया और जिस गर्मजोशी के साथ आप इतनी बड़ी संख्या में यहां उपस्थित हुए हैं, ये बताता है कि आपने तय कर लिया है कि ममता का जाना निश्चित है और भाजपा का आना तय है।'

उन्होने आगे कहा, 'आज मैंने कृषक सुरक्षा अभियान की शुरुआत की है। एक मुट्ठी चावल जो मैंने किसानों से दान लिया है और आगे जाकर गांव में भी मैं उनसे दान लेने वाला हूं, इस तरह से आज से लेकर 24 तारीख़ तक हमारे कार्यकर्ता चालीस हज़ार ग्राम सभाओं में जाकर किसानों से अन्न लेंगे। हमारे कार्यकर्ता दुर्गा मां की सौगंध खाएंगे कि उनकी लड़ाई भाजपा का कार्यकर्ता लड़ेगा। हमारी सरकार आएगी तो कृषक की लड़ाई लड़ कर पश्चिम बंगाल में उन्हें न्याय दिलाने का काम भाजपा की सरकार करेगी।

ममता जी बोलती थीं कि हम बंगाल में मां, माटी, मानुष के लिए काम करेंगे। लेकिन वास्तविकता में ममता सरकार ने टोलाबाजी, तुष्टिकरण और तानाशाही के लिए काम किया है।'

राज्य के 73 लाख किसानों के घर पहुंचेगी BJP

बहरहाल नड्डा दिन भर बर्धमान जिले में किसानों के साथ ही बिताएंगे। इस कार्यक्रम के तहत 2021 विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी राज्य के 73 लाख किसानों के घर-घर पहुंचेगी। BJP अध्यक्ष किसानों के घर-घर जाकर एक मुट्ठी चावल लेंगे। ये कार्यक्रम में 24 जनवरी तक चलेगा। किसानों से लिए चावल से बीजेपी 25 से 30 जनवरी तक कम्युनिटी किचन चलाएगी, जिसमें किसानों और गरीबों को खाना मिलेगा। एक मुट्ठी कैंपेन से बीजेपी का बंगाल के 23 जिलों के 48 गांव तक पहुंचने का प्लान है। बीजेपी नेताओं का कहना है कि 'एक मुट्ठी चावल संग्रह' अभियान भाजपा के लिए किसानों की प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करता है।

नड्डा का यह कार्यक्रम ऐसे समय में हो रहा है जब दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन पिछले चार सप्ताह से जारी है।

Updated : 9 Jan 2021 9:44 AM GMT
Tags:    

Uday Sarvodaya

Magazine | Portal | Channel


Next Story
Share it
Top