Home > राष्ट्रीय > ओम बिरला ने ऐसा क्या कहा जो राजनैतिक पार्टियाँ नाराज हो गयी

ओम बिरला ने ऐसा क्या कहा जो राजनैतिक पार्टियाँ नाराज हो गयी

ओम बिरला ने ऐसा क्या कहा जो राजनैतिक पार्टियाँ नाराज हो गयी
X

दिल्ली, ब्यूरो | ओम बिरला के एक सत्य कथन के ऊपर लोंगो ने आसमान सर पर उठा लिया है । सत्य कहने पर उन्हे चारों तरफ से घेरने की कोशिश की जा रही है । जो कि सरासर गलत है। इस तरह का आरोप लगाने वाला कोई और नही सब शंकर वर्ण ही है। जिसे जाति सम्प्रदाय या राष्ट्र से कुछ लेना- देना नहीं है सिर्फ स्व स्वार्थ के लिए सवर्ण समाज से जातीय हिंसा फैलना चाहते है।दरअसल लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ब्राह्मणों के बारे में एक बयान दिया था -

"समाज में ब्राह्मणों का हमेशा से उच्च स्थान रहा है। यह स्थान उनकी त्याग, तपस्या का परिणाम है। यही वजह है कि ब्राह्मण समाज हमेशा से मार्गदर्शक की भूमिका में रहा है।"

बिरला की इस टिप्पणी की राजनीतिक दलों ने आलोचना की है। इसके अलावा पीयूसीएल ने भी अध्यक्ष की टिप्पणी की निंदा की और कहा कि वह राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद से इस संबंध में शिकायत करेंगे।

सिब्बल ने ट्वीट किया- ‘‘ओम बिरला: लोकसभा अध्यक्ष ने कहा : ‘ब्राह्मण जन्म से ही उच्च समझे जाते हैं'। यही मानसिकता जाति के आधार पर बंटे असमान भारत को बढ़ावा देती है। बिरला जी, हम आपका सम्मान इसलिए नहीं करते, क्योंकि आप ब्राह्मण हैं बल्कि इसलिए करते हैं क्योंकि आप लोकसभा अध्यक्ष है।''

कांग्रेस से सांसद कार्ति चिदंबरम ने कहा कि लोकसभा अध्यक्ष को इस प्रकार की ‘‘जातिगत टिप्पणी'' करना शोभा नहीं देता। उन्होंने ट्वीट किया कि भाजपा के हिंदुत्व का असल चेहरा है।

Updated : 12 Sep 2019 2:53 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top