Home > राज्यवार > दिल्ली > ढाई सीएम वाला कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन क्या करेगा कर्नाटक का विकास : अमित शाह

ढाई सीएम वाला कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन क्या करेगा कर्नाटक का विकास : अमित शाह

ढाई सीएम वाला कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन क्या करेगा कर्नाटक का विकास : अमित शाह
X

नई दिल्ली (उदय सर्वोदय स्टाफ) : बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने एक बार फिर कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी पर हमला बोला है. उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा, ‘मुख्यमंत्री कुमारस्वामी कहते हैं कि मैं कर्नाटक की जनता के कारण नहीं, सोनिया और राहुल गांधी की कृपा से मुख्यमंत्री हूं. कुमारस्वामी जी, पहले कर्नाटक की जनता को बताइए कि आपकी निष्ठा उनके प्रति है या राहुल गांधी के चरणों में है.’शाह ने कहा कि कर्नाटक में मुख्यमंत्री कुमारस्वामी अपने आप को क्लर्क सीएम कहते हैं. कांग्रेस के सिद्धारमैया सुपर सीएम बने बैठे हैं और उप-मुख्यमंत्री परमेश्वरन खुद को हाफ सीएम मानते हैं. ये ढाई सीएम वाला कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन कभी भी कर्नाटक का विकास नहीं कर सकता. उन्होंने कहा कि गठबंधन की विफल राजनीति का उदाहरण है- कर्नाटक की कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार.कर्नाटक में बीजेपी की सरकार न बन पाने की टीस अभी भी अमित शाह के दिल में है. उनकी इस टिप्पणी से यही लगता है- ‘कर्नाटक के विधानसभा चुनाव का जनादेश बीजेपी के पक्ष में था, उसे सबसे अधिक सीटें मिली, लेकिन हम बहुमत से कुछ कदम दूर रह गए. लेकिन विडंबना देखिये कि जिसकी सबसे कम सीटें आई, उस पार्टी का नेता मुख्यमंत्री बन कर बैठा है.’बता दें कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह इस समय कर्नाटक के दौरे पर हैं. उन्होंने गुरुवार को अनंत विद्यानिकेतन, साई गार्डन, अवती, देवनहल्ली में प्रदेश के तीन लोकसभा क्षेत्रों कोलार, चिक्कबल्लापुरा, तुमकुरु लोकसभा क्षेत्रों के शक्ति केंद्र कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने जनता से कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार को उखाड़ फेंकने की अपील करते हुए केंद्र में एक बार फिर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा सरकार बनाने की अपील की.इससे पहले अमित शाह ने पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि अर्पित की और कहा कि हम समस्त देशवासी शहीद जवानों के परिवारों के साथ एकजुट हो खड़े हैं. उन्होंने महान कैंपेगौड़ा जी को नमन करते हुए कहा कि भाजपा की जीत के सूत्रधार पार्टी के बूथ कार्यकर्ता होते हैं.

Updated : 22 Feb 2019 8:33 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top