Top
Home > प्रमुख ख़बरें > यौन शोषण के दोषी सेना के मेजर का कोर्ट मार्शल

यौन शोषण के दोषी सेना के मेजर का कोर्ट मार्शल

यौन शोषण के दोषी सेना के मेजर का कोर्ट मार्शल
X

भारतीय सेना ने 2016 में पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक की थी। सेना के इस साहस के लिए उसकी हर तरफ तारीफ हुई। लेकिन, इस सर्जिकल स्ट्राइक में अहम भूमिका निभाने वाले एक सीनियर ऑफिसर दो साल पुराने यौन शोषण के मामले में दोषी पाए गए हैं। आर्मी ने दोषी मेजर का कोर्ट मार्शल करते हुए उसे सेना से बर्खास्त करने का फैसला सुनाया है। दोषी मेजर का नाम एम. एस. जसवाल है, जो सेना में मेजर जनरल रैंक का अधिकारी है। आरोप सिद्ध होने के बाद एम. एस. जसवाल इस सारे मामले को अपने खिलाफ सेना में गुटबाजी का नतीजा बताया है।‘माय’ समीकरण अब 69 गणित तक पहुंचाएम. एस. जसवाल पर यौन शोषण के आरोप लगाने वाली महिला सेना में ही कैप्टन रैंक की अधिकारी है। उस महिला अधिकारी ने दो साल पहले एम. एस. जसवाल के खिलाफ छेड़छाड़ और यौन उत्पीड़न किए जाने की शिकायत दर्ज कराई थी। महिला अधिकारी ने शिकायत करते हुए कहा था कि मेजर जनरल जसवाल ने कोहिमा में उसे अपने कमरे में बुलाया था। फिर उसके साथ छेड़छाड़ की थी। उसे गलत नीयत से छुआ था। महिला अधिकारी की शिकायत का संज्ञान लेते हुए आरोपी अधिकारी के खिलाफ सेना ने पहले जांच कमिटी बनाई और फिर कोर्ट मार्शल किया। जांच के दौरान आरोपी अधिकारी को आईपीसी की धारा 354ए और सेक्शन 45 के तहत दोषी माना गया है। दोषी पाए जाने पर तुरंत उन्हें सेना से बर्खास्त करने का फरमान सुनाया गया।पूर्व केंद्रीय मंत्री जयनारायण निषाद का निधनहालांकि, सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत और अन्य अधिकारियों ने अब तक कोर्ट मार्शल के फैसले को मंजूरी नहीं दी है। सैन्य कानून के मुताबिक कोर्ट मार्शल के फैसले को अमली जामा पहनाने के लिए सेना प्रमुख और वरिष्ठ अधिकारियों की इजाजत जरूरी होती है। इसलिए जीसीएम की सिफारिशों को अब पुष्टि के लिए चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ समेत हाई अथॉरिटीज के पास भेजा जाएगा। अगर वहां से भी जीसीएम की सिफारिशों को मान लिया जाता है, तो फिर मेजर जनरल को सेना से बर्खास्त कर दिया जाएगा। जानकारी के मुताबिक 2016 में म्यांमार में क्रॉस बॉर्डर कैंप से की गई सर्जिकल स्ट्राइक की कार्रवाई में एम. एस. अधिकारी ने अहम रोल अदा किया था। उसी की वजह से उक्त अधिकारी का प्रमोशन भी हुआ था।

Updated : 24 Dec 2018 10:29 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top